सरकार में आए तो कश्मीर में जमात-ए-इस्लामी से हटा देंगे प्रतिबंध: महबूबा मुफ्ती

महबूबा ने पाकिस्तान की तरफ़ से शारदा पीठ कोरिडोर को हरी झंडी मिलने पर कहा “ पंडित लोग साल के साल शारदा पीठ आ जा सकते हैं और उससे उनकी कश्मीर वापिस का रास्ता बनेगा

सरकार में आए तो कश्मीर में जमात-ए-इस्लामी से हटा देंगे प्रतिबंध: महबूबा मुफ्ती
फोटो साभार- डीएनए

जम्मू: पीडीपी ही एक दल है जो कश्मीरियीयों को मुसीबत से निकाल सकता है. उतरी कश्मीर के बरामुल्लाह में मंगलवार को पीडीपी अध्यक्ष महबोबा मुफ़्ती ने एक चुनावी सभा को सम्बोधित करते हुए कहा, अगर हम सरकार में आए तो जमात-ए-इस्लामी पर लगाए गए प्रतिबंध को हटा देंगे. वह बारामुल्लाह लोकसभा क्षेत्र से अपने प्रत्याशी के हक़ में प्रचार कर रही थीं. 

महबोबा मुफ़्ती बोलीं “ हाल ही मे कहा गया जमात इस्लामी के स्कूल बंद करो, यतीम खाने बंद करो लेकिन उस समय जब कोई बात नहीं कर पाया यही पीडीपी रास्ते पर आयी और हमने कोई स्कूल बंद नही होने दिया. हमने कोई यतीम खाना बंद नही होने दिया. आगे अगर हमें दोबारा ताकत (सरकार) मिली तो हम इस बेन को ही खत्म करेंगे.” 

उन्होंने कहा “JKLF पर बेन, जमात इस्लामी पर बेन इससे क्या हासिल होगा कश्मीर को कैदखाना बनाने से कश्मीर का मसला हल नहीं होगा, कश्मीर मसला एक ख्याल है एक सोच है और यह सोच से ही हल होगा. मैं दो साल तक सरकार मे थी और मैने अनुच्छेद 370, 35A की सुरक्षा की. अब हम अब लोगों को मिलकर कश्मीर के स्पेशल अदीकारों की रक्षा करनी होगी.” 

महबूबा ने पाकिस्तान की तरफ़ से शारदा पीठ कोरिडोर को हरी झंडी मिलने पर कहा “ पंडित लोग साल के साल शारदा पीठ आ जा सकते हैं और उससे उनकी कश्मीर वापिस का रास्ता बनेगा, मुफ्ती सहाब क्या बोलते थे. मुफ्ती सहाब भी यही कहते थे रास्ते खोलो.”

उन्होंने आगे कहा, “पाकिस्तान के साथ दोस्ती करो, जेसे करतारपोर खोला गया वैसे ही, नोवशेरा जांगर खोलो, जम्मू सियालकोट खोलो यहां से कारगिल अस्करदो खोलो इसी से कश्मीर मसले का हल निकलेगा.” महबूबा ने लोगों से पार्टी के प्रत्याशी को मत देने के लिए आग्रह किया और कहा “इसलिए अगर यह कोई पार्टी है जो कश्मीरियों को इस मुसीबत से निकाल सकते है.”