close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जम्‍मू-कश्‍मीर के सोपोर में सुरक्षाबलों ने ढेर किया एक आतंकी, जारी है मुठभेड़

सोपोर के दंगेरपुरा इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच गोलीबारी का दौर जारी है. 

जम्‍मू-कश्‍मीर के सोपोर में सुरक्षाबलों ने ढेर किया एक आतंकी, जारी है मुठभेड़
बारामुला के सोपोर में सीआरपीएफ, राष्‍ट्रीय राइफल्‍स और स्‍थानीय पुलिस की टीम आतंकियों को अंजाम तक पहुंचाने की कार्रवाई में लगी हुई है. (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली: जम्‍मू और कश्‍मीर में जारी ऑपरेशन ऑल आउट के तहत सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली है. सुरक्षाबलों ने बारामुला के सोपोर में जारी इनकाउंटर में एक आतंकी को मार गिराया है. मौके पर दो से तीन अन्‍य आतंकियों के मौजूद होने की संभावना जताई जा रही है. वहीं इन आतंकियों को अंजाम तक पहुंचाने के लिए सुरक्षाबलों की कार्रवाई जारी है. 

सुरक्षाबल के वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, अभी तक यह साफ नहीं हो सका है कि मुठभेड़ स्‍थल पर मौजूद आतंकी कौन हैं और किस आतंकी संगठन से इनका संबंध है. उन्‍होंने बताया कि मुठभेड़ खत्‍म होने के बाद आतंकियों की पहचान हो सकेगी. फिलहाल, सोपोर के दंगेरपुरा इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच गोलीबारी का दौर जारी है. 

यह भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीरः शांति स्थापित होने तक आतंकवाद के खिलाफ जारी रहेगी लड़ाईः डीजीपी

दंगेरपुरा में आतंकियों के छिपे होने की मिली थी सूचना 
सुरक्षाबल के वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, गुरुवार दोपहर करीब 1:50 बजे सूचना मिली थी कि बारामूला के सोपोर क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले दंगेरपुरा में तीन से चार आतंकी मौजूद है. आतंकियों के बाबत सूचना मिलते ही सीआरपीएफ की 179, 177 और 92वीं बटालियन के जवानों के साथ 22 राष्‍ट्रीय राइफल्‍स और जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस के स्‍पेशल ऑपरेशन ग्रुप के कमांडो को मौके के लिए रवाना कर दिया गया. 

सुरक्षाबलों ने आतंकियों के खिलाफ चलाया सर्च ऑपरेशन 
दंगेरपुरा इलाके में पहुंचने के बाद सुरक्षाबलों के सामने सबसे बड़ी चुनौती उस मकान की पहचान करना था, जिसमें ये आतंकी छिपे हुए थे. आतंकियों को पनाह देने वाले घर की पहचान के लिए सुरक्षाबलों की संयुक्‍त टीम ने इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया. उन्‍होंने बताया कि कुछ ही समय में सुरक्षाबल उस घर की पहचान करने में सफल रहे, जिसमें आतंकी छिपे हुए थे. 

यह भी पढ़ें: 'कश्मीर घाटी में 275 आतंकी मौजूद, इनमें से 125 पाकिस्तानी आतंकी'

सरेंडर की अपील करने पर आतंकियों ने की गोलियों की बरसात 
आतंकियों को पनाह देने वाले घर की घेराबंदी करने के बाद सुरक्षाबलों ने आतंकियों से सरेंडर करने की अपील की. आतंकियों ने सुरक्षाबलों के सामने सरेंडर करने की बजाय गोलियों की बरसात करना शुरू कर दी. जिसके चलते, सुरक्षाबलों को आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए मजबूर होना पड़ा. मुठभेड़ शुरू होने के कुछ मिनटों बाद ही सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को मार गिराया. 

पत्‍थरबाजों से निपटने के लिए सीआरपीएफ ने तैयार किया सुरक्षाचक्र 
बुधवार को मुठभेड़ स्‍थल पर हुई पत्‍थरबाजी को ध्‍यान में रखते हुए सुरक्षा एजेंसियां आज कोई जोखिम नहीं लेना चाहती थीं. लिहाजा, आज सीआरपीएफ की तीन बटालियन को मुठभेड़ स्‍थल में तैनात किया गया था. जिसमें सीआरपीएफ की एक टीम को राष्‍ट्रीय राइफल्‍स के साथ मुठभेड़ के लिए तैनात किया गया था, जबकि‍ बाकी दो बटालियन के जवानों को पत्‍थरबाजों से निपटने की जिम्‍मेदारी दी गई थी.