close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

उज्जैनः पुलवामा आतंकी हमले से आक्रोशित जनता ने कहा, कराची और लाहोरी होटल का नाम बदलो

मालिकों ने होटल के नाम को लेकर विरोध को बढ़ते देखा दोनों ही दुकानों पर मालिकों ने कपड़ा डाल दिया, ताकि दुकान का नाम देखकर प्रदर्शनकारी किसी तरह का नुकसान न करें.  

उज्जैनः पुलवामा आतंकी हमले से आक्रोशित जनता ने कहा, कराची और लाहोरी होटल का नाम बदलो
उज्जैन के पुराने होटलों में शुमार है कराची और लाहोरी होटल (फाइल फोटो)
Play

उज्जैनः कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद देश भर में पाकिस्तान के खिलाफ आक्रोश देखने को मिल रहा है. ऐसा ही आक्रोश उज्जैन में भी देखने को मिला. जहां पकिस्तान के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कई जगह पकिस्तान का झंडा जलाया गया तो कई जगहों पर शहीद जवानों के लिए मार्च निकाला गया, लेकिन इसी बीच जिले में कुछ लोगों का ऐसा भी आक्रोश देखने को मिला, जिसमें उज्जैन की पुरानी होटलों में शुमार कराची होटल और लाहोरी होटल के सामने प्रदर्शन किया गया और इसका नाम बदलने की मांग की गई. ऐसे में जैसे ही होटल के मालिकों ने होटल के नाम को लेकर विरोध को बढ़ते देखा दोनों ही दुकानों पर मालिकों ने कपड़ा डाल दिया, ताकि दुकान का नाम देखकर प्रदर्शनकारी किसी तरह का नुकसान न करें.  

सुरक्षाबलों को आगे की कार्रवाई , समय, स्थान और स्वरूप तय करने की पूरी इजाजत दी गई : मोदी

दरअसल, उज्जैन में आतंकी हमले के बाद लगातार पाकिस्तान का विरोध देखने को मिल रहा है, लेकिन एक विरोध नाम को लेकर भी था. बता दें उज्जैन में पिछले कई सालों से कराची और लाहोरी नाम की दो होटल हैं, लेकिन आतंकी हमले के बाद उज्जैन में कुछ प्रदर्शनकारियों ने इन होटल के नाम बदलकर दूसरा नाम रखने की बात कही. जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले को लेकर सिर्फ मध्य प्रदेश ही नहीं बल्कि पूरे देश में आक्रोश देखने को मिल रहा है और हर भारतवासी चाहता है कि पाकिस्तान का नाम इस देश से मिट जाए.

बता दें उज्जैन में यह होटल कई सालों से संचालित है, लेकिन गुरुवार को जम्मू कश्मीर में हुए आतंकी हमले के बाद क्षेत्र की जनता काफी गुस्से में है, जिसके चलते आज उज्जैन के हिंदूवादी संगठन ने मिलकर कराची होटल और लाहोरी के होटल के सामने प्रदर्शन किया और दोनों होटल के मालिकों से जल्द से जल्द इनके नाम बदलने की मांग की. इधर देश वासियों की भावना को देखते हुए होटल मालिक ने होटल के बोर्ड पर कपड़ा ढांक दिया और जल्द ही होटल का नाम बदलने की बात भी की.

नहीं मान रहा पाकिस्‍तान, आतंकियों पर कार्रवाई करने की बजाय उठाया ये कदम...

गुरुवार को पुलवामा में हुए इस आतंकी हमले में केंद्रीय आरक्षित पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 44 से ज्यादा जवान शहीद हो गए. कई अन्य घायल हुए हैं. जैश के एक आत्मघाती हमलावर ने पुलवामा जिले में सीआरपीएफ की एक बस में विस्फोटक लदे वाहन से टक्कर मार दिया. जिससे हुए विस्फोट में बस में सवार जवान शहीद हुए हैं.