छत्तीसगढ़: CM भूपेश का नए साल में भी वही संकल्प, 'गढ़बो नवा छत्तीसगढ़' पर करेंगे काम

सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि शहरी क्षेत्रों में छोटे भूखंडों की रजिस्ट्री प्रारंभ की गई. कलेक्टर दर में 30 प्रतिशत की कमी की गई, भूखंडों को फ्री होल्ड करने का निर्णय किया गया.

छत्तीसगढ़: CM भूपेश का नए साल में भी वही संकल्प, 'गढ़बो नवा छत्तीसगढ़' पर करेंगे काम
(फाइल फोटो)

सुदीप त्रिपाठी/रायपुर: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का नए साल में भी वही संकल्प होगा, गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ के संकल्प पर ही सरकार आगे काम करेगी. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेशवासियों को नए वर्ष 2020 की बधाई और शुभकामनाएं दी हैं. मुख्यमंत्री ने कहा है कि छत्तीसगढ़ के लिए वर्ष 2019 उपलब्धियों भरा रहा. चाहे किसानों की कर्ज माफी हो, 2500 प्रति क्विंटल पर धान खरीदी, सभी परिवारों को 35 किलो चावल, 400 यूनिट तक बिजली बिल हाफ, जैसे बड़े फैसले लिए गए, साथ ही लोहंडीगुड़ा के किसानों को उनकी जमीन लौटाने का ऐतिहासिक फैसला लिया गया और उस पर अमल किया गया.

सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि शहरी क्षेत्रों में छोटे भूखंडों की रजिस्ट्री प्रारंभ की गई. कलेक्टर दर में 30 प्रतिशत की कमी की गई, भूखंडों को फ्री होल्ड करने का निर्णय किया गया. गुमाश्ता एक्ट में संशोधन किया गया. स्वास्थ्य सुविधाओं की पहुंच लोगों तक बढ़ाने के लिए मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लीनिक योजना, शहरी क्षेत्रों में मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना, कुपोषण मुक्ति के लिए सुपोषण अभियान प्रारंभ किए गए. वन अधिकार पट्टा देने का काम छत्तीसगढ़ में फिर से प्रारंभ किया गया. ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी योजना प्रारम्भ की गई.

मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले एक वर्ष में छत्तीसगढ़ की कला, संस्कृति और परंपराओं के संरक्षण तथा संवर्धन के कार्य भी किए गए. पारंपरिक छत्तीसगढ़ी त्योहारों पर न सिर्फ अवकाश की घोषणा की गई, अपितु बड़े ही उत्साह से इस वर्ष पोला-तीजा, हरेली त्योहार मनाया गया. राजधानी रायपुर में तीन दिवसीय राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव का आयोजन भी इसी दिशा में किया गया एक छोटा सा प्रयास था.

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने इस एक वर्ष में सभी वर्गो की उन्नति और विकास के लिए बड़े फैसले लिए हैं और उन पर अमल भी किया है. आने वाले वर्षों में भी हम इसी भावना के साथ छत्तीसगढ़ की सेवा करेंगे और प्रदेश के विकास के लिए  हर संभव प्रयास करेंगे ताकि भारत के मानचित्र में छत्तीसगढ़ का स्थान सर्वोपरि हो.

मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को नए वर्ष की शुभकामनाएं देते हुए कहा है कि नया वर्ष सभी लोगों के जीवन में सुख, समृद्धि और खुशहाली लेकर आए. बघेल ने कहा है कि हम सब मिलकर अपने पुरखों के सपनों के अनुरूप स्वास्थ्य, खुशहाल और समृद्ध ’गढ़वो नवा छत्तीसगढ़’ का सपना साकार करेंगे, जिसमें किसान, मजदूर, गरीब, पिछड़े, युवा और महिलाएं सहित समाज के सभी वर्गों के लोग खुशहाल हो.