MP सरकार का एंटी माफिया अभियान फिर शुरू! इंदौर में ढहाई 40 से ज्यादा बिल्डिंग, इन 4 जिलों में Action

इंदौर नगर निगम करीब 200 से अधिक कर्मचारी और भारी संख्या में पुलिस बल के साथ यह कार्रवाई करने पहुंचा.

MP सरकार का एंटी माफिया अभियान फिर शुरू! इंदौर में ढहाई 40 से ज्यादा बिल्डिंग, इन 4 जिलों में Action
इंदौर में प्रशासन ने अवैध बिल्डिंग पर एक्शन लिया

भोपाल/इंदौरः मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) ने गुरुवार को इंदौर, भोपाल समेत कई जिलों में एंटी माफिया कार्रवाई के निर्देश दिए थे. जिस पर राजधानी भोपाल में एक्शन प्लान बना दिया गया तो वहीं इंदौर में तो अवैध मैरिज गार्डन समेत घरों पर प्रशासन का बुलडोजर भी चला. नगर निगम की टीम करीब 200 अधिकारियों के साथ कनाडिया रोड स्थित मैरिज गार्डन पर सुबह ही पहुंच गई थी. उन्होंने अब तक करीब 40 स्थाई और अस्थाई अवैध निर्माणों से कब्जा हटा लिया. 

राजधानी में तैयार हुआ एक्शन प्लान
इंदौर के अलावा राजधानी भोपाल, जबलपुर और ग्वालियर जिले में भी सबसे ज्यादा माफियाओं पर एक्शन लिया जाना है. भोपाल प्रशासन ने स्कूल, वृद्धाश्रम और सरकारी दफ्तर के साथ ही ग्रीन फील्ड विकसित करने के लिए राज्य शासन को प्रस्ताव भेजा है. प्रस्ताव को राज्य शासन की सैद्धांतिक सहमति दी जा चुकी है, इन प्रस्तावों को जल्द ही लागू भी किया जा सकता है. बता दें कि पिछले दो सालों से चल रहे माफियाओं के खिलाफ अभियान में शासन की करीब 2000 हेक्टेयर की करोड़ों की संपत्ति को मुक्त करवा लिया गया है. 

यह भी पढ़ेंः- कच्चे रास्ते पर दिया बच्चे को जन्म! 108 पर किया था कॉल, ड्राइवर बोला- सड़क खराब है, नहीं आ सकता

कनाडिया रोड पर पुलिस ने लिया एक्शन
एंटी माफिया अभियान के खिलाफ इंदौर के कनाडिया रोड पर प्रशासन की टीम ने पुलिस और नगर निगम के साथ संयुक्त कार्रवाई की. उन्होंने कनाडिया रोड स्थित प्रेम बंधन और रिवाज गार्डन पर नगर निगम के बुलडोजरों से अवैध निर्माण हटाने की कार्रवाई को अंजाम दिया. यहां मौजूद 40 से ज्यादा स्थाई और अस्थाई निर्माणों को भी हटाया गया. 

दुकानें दे रहे थे किराए पर
बताया जा रहा है सोहराब पटेल और एक अन्य व्यक्ति ने मिलकर सीलिंग की जमीन पर कब्जा कर अवैध निर्माण तैयार किया था. दोनों इसी जमीन पर दुकानों को किराए पर देकर हर महीने 10 से 15 हजार तक का किराया वसूल रहे थे. प्रशासन द्वारा पूरा मामला दर्ज कर मामले में FIR दर्ज करने की तैयारी भी की जा रही है. इंदौर नगर निगम करीब 200 से अधिक कर्मचारी और भारी संख्या में पुलिस बल के साथ यह कार्रवाई करने पहुंचा. 

यह भी पढ़ेंः- भगवान श्रीराम के खिलाफ सोशल मीडिया पर की अशोभनीय टिप्पणी, हिंदू संगठनों ने घेरा थाना

WATCH LIVE TV