नकली पुलिसवाला बन करता था चोरी, अपनी ही गलती से ऐसे हुआ गिरफ्तार...

जबलपुर पुलिस को शहर के एक घर से लाखों की चोरी की शिकायत मिली थी. चोर का पता लगाने के लिए उन्होंने आसपास के सीसीटीवी कैमरों की मदद ली और चोर की तलाश की. आगे जानने के लिए पढ़िए पूरी खबर...

नकली पुलिसवाला बन करता था चोरी, अपनी ही गलती से ऐसे हुआ गिरफ्तार...
सांकेतिक तस्वीर

जबलपुरः जबलपुर पुलिस ने एक सनसनीखेज चोरी का खुलासा करते हुए एक शातिर चोर को धर दबोचा है. गिरफ्तारी के बाद चोर से पूछताछ की गई. पूछताछ में चोर की सच्चाई का पता लगते ही पुलिस के होश उड़ गए. दरअसल आरोपी नकली पुलिस वाला बनकर चोरी की घटनाओं को अंजाम देता था. आरोपी ने बीते हफ्ते जबलपुर के एक घर में लाखों रुपए के सामान पर हाथ साफ कर दिया था.  

ये भी पढ़ेंः- हींग लगे न फिटकरी और मिलावट करके रंग चोखा लाने के चक्कर में थे, फैक्ट्री पर छापा, नकली हींग जब्त

छठ पूजा मनाने बिहार गया था परिवार
जबलपुर के गढ़ा थाना पुलिस को सूचना मिली थी कि शारदा कॉलोनी साईं पैलेस के शक्ति नगर में चोरी हुई है. परिवार छठ पूजा मनाने के लिए बिहार गया हुआ था. इसी दौरान चोर ने 17 और 18 नवंबर की रात को घर में चोरी की. सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने बताया करीब 10 लाख से अधिक कीमत के सोने चांदी के जेवरात और इलेक्ट्रॉनिक सामान की चोरी की गई है.

ऐसे आया पकड़ में
शिकायत के आधार पर पुलिस ने जांच शुरू की. आसपास लगे CCTV कैमरों के आधार पर उन्होंने कई लोगों को संदिग्ध मानकर पड़ताल की. इसी दौरान पुलिस को खबर मिली कि एक संदिग्ध व्यक्ति महंगे LED TV को बेहद कम दामों में बेच रहा है. मौके पर पहुंची पुलिस ने 24 साल के सत्येंद्र गोल्हानी को हिरासत में लिया. सिवनी जिले के धुमा गांव के बताए जा रहे युवक ने पूछताछ में चोरी की बात कबूली. लेकिन और छानबीन करने पर पुलिस को चोर के बारे में चौंकाने वाली जानकारी मिली.

ये भी पढ़ेंः- पटवारी को धमकाते MLA पुत्र का ऑडियो वायरल, सरकारी जमीन पर मकान बनाने की दी धमकी

गांव में बता रखा है कि वो पुलिसवाला है
चोर ने अपने गांव और परिवार में अच्छी छवि बनाने के लिए उन्हें झूठ बोल के रखा था कि वह पुलिस में नौकरी करता है. इस तरह तीन साल से आरोपी अपने गांव में नकली पुलिस वाला बनकर रह रहा था. राज्य पुलिस की वर्दी पहन कर शासकीय पद का अनुचित लाभ उठाया करता था.

नकली पुलिस बनकर उसने कई घरों में चोरी की थी. यहां तक कि उसने फर्जी पुलिस का पत्र भी बनाकर रखा था. पुलिस को उसके पास से नकली वर्दी के साथ ही अन्य कागजात भी मिले. पुलिस अब इस मामले की जांच में जुट गई है कि चोर ने नकली पुलिस बन कर कितने लोगों को ठगा है. पुलिस सीएसपी रोहित कासवानी ने बताया आरोपी के विरुद्ध IPC की धारा 420, 357 और 380 के तहत मामला दर्ज कर जांच की जा रही है.

ये भी पढ़ेंः- जख्म के खिलाफ जज्बाः हाथ के आरपार था तीर, 100 किमी चलकर खुद ही हॉस्पिटल पहुंच गया बुजुर्ग

ये भी पढ़ेंः- CG में किसान सड़कों परः कृषि कानून के विरोध में प्रदर्शन, दो दिन करेंगे चक्काजाम

ये भी पढ़ेंः- भाई-भाई न रहाः संपत्ति में नहीं दिया हक, शराब पिलाकर सीमेंट पोल पर पटककर मार डाला

ये भी पढ़ेंः- यात्रीगण कृपया ध्यान दें! भोपाल से पंजाब मेल एक्सप्रेस जल्द ही पटरी पर दौड़ेगी...

ये भी पढ़ेंः-शादी के 8 साल बाद बेटा चाहता था दूसरी शादी करना, मां-बाप ने बहू के नाम की प्रॉपर्टी

WATCH LIVE TV