मुख्यमंत्री पद छोड़ने की ममता बनर्जी की पेशकश और कुछ नहीं बल्कि नाटक: मुकुल रॉय
topStorieshindi

मुख्यमंत्री पद छोड़ने की ममता बनर्जी की पेशकश और कुछ नहीं बल्कि नाटक: मुकुल रॉय

मुकुल रॉय ने कहा कि ममता मुख्यमंत्री का पद कभी नहीं छोड़ेंगी क्योंकि उन्हें सत्ता का आनंद लेने की लालसा है .

मुख्यमंत्री पद छोड़ने की ममता बनर्जी की पेशकश और कुछ नहीं बल्कि नाटक: मुकुल रॉय

कोलकाता: भारतीय जनता पार्टी के नेता मुकुल रॉय ने रविवार को तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ममता बनर्जी की प्रदेश के मुख्यमंत्री का पद छोड़ने की पेशकश को और कुछ नहीं बल्कि खबरों में बने रहने के लिए नाटक करार दिया है . रॉय ने कहा कि ममता मुख्यमंत्री का पद कभी नहीं छोड़ेंगी क्योंकि उन्हें सत्ता का आनंद लेने की लालसा है .

उन्होंने कहा,‘ममता बनर्जी की पेशकश और कुछ नहीं बल्कि नौटंकी है . वह केवल खबरों की सुर्खियों में बने रहने के लिए ऐसा कर रही हैं . उन्होंने अपना इस्तीफा किसको सौंपा है . वह स्वयं पार्टी (टीएमसी) हैं. क्या किसी ने उनका इस्तीफा देखा है .’

बीजेपी नेता ने माखौल उड़ाते हुए कहा,‘मुझे लगता है कि उन्होंने त्यागपत्र स्वयं को दिया था और इसके बाद स्वयं ही इसे खारिज कर दिया .’  बीजेपी में शामिल होने से पहले ममता के विश्वस्त रह चुके रॉय ने कहा कि ममता को सत्ता की लालसा रही है और वह मुख्यमंत्री की शक्तियों का आनंद ले रही हैं .

और क्या बोले रॉय
उन्होंने कहा कि जबतक पश्चिम बंगाल की जनता अपने लोकतांत्रिक अधिकारों का इस्तेमाल कर उन्हें उखाड़ नहीं फेकती है तब तक वह कभी भी पद नहीं छोड़ेंगी.

टीएमसी प्रमुख ने शनिवार को कहा था कि राज्य में हार के मद्देनजर उन्होंने पार्टी की आंतरिक बैठक में मुख्यमंत्री का पद छोड़ने की पेशकश की थी, लेकिन पार्टी ने इसे खारिज कर दिया .

Trending news