इस कार्यक्रम से जुड़ेंगे ग्रामीण गुरुग्राम के स्कूल, सीएसआर रणनीति की हुई घोषणा

इन कामों को मिड-टर्म तक पूरा किया जाएगा. गुरुग्राम के अलावा पुणे, बैंगलोर और अपने व्यापार संचालन के अन्य क्षेत्रों में कंपनी द्वारा इसे लागू किया जाएगा. 

इस कार्यक्रम से जुड़ेंगे ग्रामीण गुरुग्राम के स्कूल, सीएसआर रणनीति की हुई घोषणा

नई दिल्ली : समाज में सकारात्मक संदेश और योगदान देने के लिए मित्सुबिशी इलेक्ट्रिक इंडिया दिनों दिन काम कर रहा है. 2019 में दिल्ली से सटे ग्रामीण गुरुग्राम को आधुनिक बनाने के लिए काम शुरू कर दिया है. इसमें भारत सरकार की पहल के साथ यूनाइटेड नेशंस सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स भी शामिल हैं. इन प्रयासों को कौशल विकास, सामुदायिक विकास और क्लाइमेट एक्शन के तहत बांटा गया है. ये गतिविधियां क्वालिटी एजुकेशन, स्वच्छ जल और स्वच्छता, अच्छे स्वास्थ एवं कल्याण और क्लाइमेट एक्शन के यूनाइटेड नेशंस सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स में सहयोग करेंगी. इसके साथ ही केंद्र की सत्तासीन सरकार द्वारा कि गए कार्यक्रमों को भी सफल बनाएगी.

इन क्षेत्रों में होगा काम
मिली जानकारी के अनुसार इन कामों को मिड-टर्म तक पूरा किया जाएगा. गुरुग्राम के अलावा पुणे, बैंगलोर और अपने व्यापार संचालन के अन्य क्षेत्रों में कंपनी द्वारा इसे लागू किया जाएगा. 

927 छात्रों को मिलेगा फायदा
सरकारी उच्चतर माध्यमिक विद्यालय - जमालपुर, सरकारी प्राथमिक विद्यालय- खारखारी, सरकारी हाईस्कूल-मुशेदपुर और सरकारी हाई स्कूल- कलियावास में बच्चों को साफ पानी का पीना के लिए वाटर स्टोरेज (जल भंडारण), पाइपिंग, वॉटर कूलर, आरओ सिस्टम और वाटर ड्रिंकिंग बे का निर्माण भी कराया जाएगा. कहा जा रहा है कि इस योजना का लाभ स्कूल में पढ़ने वाले 927 बच्चों को होगा.

इस कार्यक्रम के बारे में जानकारी देते हुए कंपनी के प्रबंध निदेशक कत्सुनोरी उशिकु ने कहा, "समाज के प्रति कॉर्पोरेट जिम्मेदारी हमारे समूह के तीन सिद्धांतों में से एक है जिसे हम एक कॉमन हेरिटेज के रूप में अपने व्यापार में हर दिन शामिल रखते हैं. यह सीएसआर गतिविधि हमारे मूल विचारों की ही देन है जिसमें हमने गुड़गांव शहर से दूर ऐसे स्कूलों की पहचान की जिन्हें, सरकार द्वारा किए जा रहे अच्छे काम के बावजूद, कॉर्पोरेट समर्थन की आवश्यकता है.'