Coronavirus: Dead Body के पास लेटने को मजबूर हुए मरीज, Hospital की लापरवाही आई सामने

Patients Slept With Dead Body In The Hospital: मृतक के भाई ने बताया कि मेरे भाई की कल दोपहर मौत हो गई थी. अस्पताल प्रशासन ने उसका शव यहां अस्पताल की दहलीज पर रख दिया और हमारे ऊपर शव को घर ले जाने का दबाव बनाने लगे.

Coronavirus: Dead Body के पास लेटने को मजबूर हुए मरीज, Hospital की लापरवाही आई सामने
प्रतीकात्मक फोटो | फोटो साभार: रॉयटर्स

शैलेंद्र, नरसिंहपुर: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के नरसिंहपुर (Narsinghpur) जिले से दिल दहला देने वाली तस्वीरें सामने आई है. यहां के जिला अस्पताल का प्रशासन बेहद असंवेदनशील रवैया अपनाए हुए है. यहां एक मृतक का शव घंटों तक अस्पताल की दहलीज पर पड़ा (Patients Slept With Dead Body In The Hospital) रहा. उस शव को न तो मोर्चुरी में रखा गया और न ही कोविड संदिग्ध गाइडलाइंस के अनुसार उसका अंतिम संस्कार किया गया.

अस्पताल प्रशासन ने मृतक के परिजनों पर बनाया दबाव

बता दें कि नरसिंहपुर के जिला अस्पताल (Narsinghpur District Hospital) में करेली के करप गांव का रहने वाला एक 30 साल का युवक भर्ती था. जिसकी रविवार को दोपहर 12 बजे मौत हो गई. जिसके बाद उसके परिजनों पर शव को घर ले जाकर अंतिम संस्कार किए जाने का दबाव बनाया जाने लगा.

मृतक के भाई की हालत भी गंभीर

जान लें कि मृतक के अलावा उसका बड़ा भाई भी बीमार है. उसका ऑक्सीजन लेवल घटकर 85 तक पहुंच गया है. घर में उसके अलावा बुजुर्ग माता-पिता हैं लेकिन जिला अस्पताल प्रशासन ने उन्हें लगातार परेशान किया.

ये भी पढ़ें- क्या ATM मशीन या कैश लेन-देन से फैल सकता है Corona? रिपोर्ट में किया गया ये दावा

VIDEO

क्या हुआ था?

मृतक के भाई रतनेश दुबे ने बताया कि मेरा भाई बीते एक हफ्ते से बीमार था. पहले उसे एक प्राइवेट अस्पताल ले गए, जहां उसका ऑक्सीजन लेवल 44 पर आ गया था. जिसके बाद उसे जिला अस्पताल लेकर आए थे. मेरे भाई की कल दोपहर को मौत हो गई. अस्पताल प्रशासन ने उसका शव यहां अस्पताल की दहलीज पर रख दिया और हमारे ऊपर शव को घर ले जाने का दबाव बनाने लगे.

उन्होंने आगे कहा कि नियम के मुताबिक, मेरे भाई के शव को या तो मोर्चुरी में रखा जाना चाहिए या फिर कोविड संदिग्ध गाइडलाइंस के तहत अस्पताल उसका अंतिम संस्कार करे. मेरे इलाज में भी अस्पताल लापरवाही बरत रहा है. यहां मरीजों को शव के साथ सोना पड़ा.

ये भी पढ़ें- Live: दिल्ली सरकार ने Remdesivir इंजेक्शन और Oxygen Supply पर लिया बड़ा फैसला

गौरतलब है कि बाद में ये मामला नरसिंहपुर के अपर कलेक्टर तक पहुंच गया. उनके हस्तक्षेप के बाद अस्पताल प्रशासन कोविड संदिग्ध गाइडलाइंस के मुताबिक शव का अंतिम संस्कार करने के लिए राजी हुआ.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.