Breaking News
  • दिल्‍ली हिंसा पर कांग्रेस ने राष्‍ट्रपति को ज्ञापन सौंपा
  • सोनिया गांधी, मनमोहन सिंह समेत कई नेता राष्‍ट्रपति से मिले
  • अखिलेश यादव सीतापुर के लिए निकले. जेल में बंद सपा नेता आजम खां व उनके परिवार से करेंगे मुलाकात

PM मोदी ने कहा- BJP में सिर्फ एक ही शख्स जो मुझे डांट लगा सकता है

इंदौर लोकसभा क्षेत्र में 19 मई को मतदान होगा. इस क्षेत्र में मुख्य चुनावी मुकाबला लालवानी और कांग्रेस उम्मीदवार पंकज संघवी के बीच होना है.

PM मोदी ने कहा- BJP में सिर्फ एक ही शख्स जो मुझे डांट लगा सकता है
.(फाइल फोटो)

इंदौर: लोकसभा अध्यक्ष के रूप में सुमित्रा महाजन के कुशल सदन संचालन की सराहना करते हुए प्रधामनंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को हल्के-फुल्के अंदाज में कहा कि भाजपा में केवल महाजन ही हैं जो उन्हें डांट लगा सकती हैं. मोदी ने यहां भाजपा की चुनावी सभा में कहा, "लोकसभा स्पीकर के तौर पर ताई (महाजन का लोकप्रिय नाम और मराठी में बड़ी बहन का संबोधन) ने बड़ी कुशलता और संयम से कार्य किया. इस कारण उन्होंने सब लोगों के मन पर अमिट छाप छोड़ी है." उन्होंने मंच पर महाजन की मौजूदगी में कहा, "आप सब (श्रोता) तो मुझे प्रधानमंत्री के रूप में जानते हैं.

लेकिन बहुत कम लोगों को पता होगा कि हमारी पार्टी में अगर मुझे कोई डांट सकता है, तो वह ताई ही हैं." मोदी ने कहा, "मैंने और ताई ने भाजपा संगठन में साथ-साथ काम किया है. कार्य के प्रति उनके समर्पण को ध्यान में रखते हुए मैं इंदौर को विश्वास दिलाता हूं कि शहर के विकास के मामले में ताई की कोई भी इच्छा अधूरी नहीं रहेगी."

महाजन (76) इंदौर सीट से वर्ष 1989 से 2014 के बीच लगातार आठ बार चुनाव जीत चुकी हैं. लेकिन 75 साल से ज्यादा उम्र के नेताओं को चुनाव नहीं लड़ाने के भाजपा के नीतिगत निर्णय को लेकर मीडिया में खबरें आने के बाद उन्होंने पांच अप्रैल को खुद घोषणा की थी कि वह बतौर उम्मीदवार चुनावी मैदान में नहीं उतरेंगी.

लम्बी उहापोह के बाद भाजपा ने पार्टी के स्थानीय नेता शंकर लालवानी (57) को महाजन का चुनावी उत्तराधिकारी बनाते हुए इंदौर से टिकट दिया. इंदौर विकास प्राधिकरण (आईडीए) के चेयरमैन और इंदौर नगर निगम के सभापति रह चुके लालवानी अपने राजनीतिक करियर का पहला लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं.

इंदौर लोकसभा क्षेत्र में 19 मई को मतदान होगा. इस क्षेत्र में मुख्य चुनावी मुकाबला लालवानी और कांग्रेस उम्मीदवार पंकज संघवी के बीच होना है, जहां करीब 23.5 लाख लोगों को मतदान का अधिकार हासिल है.