close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बीजेपी गठबंधनों के लिए तैयार है, पुराने मित्रों के साथ दोस्ती निभाती है : पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा, 'बीस साल पहले दूरदर्शी नेता अटलजी भारतीय राजनीति में नई संस्कृति लाए थे जो कि सफल गठबंधन राजनीति की संस्कृति थी.'

बीजेपी गठबंधनों के लिए तैयार है, पुराने मित्रों के साथ दोस्ती निभाती है : पीएम मोदी
पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, 'कांग्रेस ने क्षेत्रीय राजनीतिक दलों, महत्वाकांक्षाओं और लोगों के साथ अच्छा व्यवहार नहीं किया क्योंकि उन्हें लगता है कि केवल उनके पास ही सत्ता में होने का अधिकार है.' (फोटो साभार - @BJP4India)

चेन्नई: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि बीजेपी गठबंधन करने के लिए तैयार है और वह अपने पुराने मित्रों के साथ दोस्ती निभाते हुए चलती है. इसी के साथ उन्होंने इस बात के संकेत दे दिए कि बीजेपी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर तमिलनाडु में राजग को मजबूत करना चाहती है. 

तमिलनाडु में पांच जिलों के बूथ स्तरीय कार्यकर्ताओं के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बातचीत में उन्होंने नब्बे के दशक में पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा शुरू की गई 'सफल गठबंधन राजनीति' को याद किया और कहा कि बीजेपी के दरवाजे 'हमेशा खुले हैं.'

'अटलजी भारतीय राजनीति में नई संस्कृति लाए थे'
उन्होंने कहा, 'बीस साल पहले दूरदर्शी नेता अटलजी भारतीय राजनीति में नई संस्कृति लाए थे जो कि सफल गठबंधन राजनीति की संस्कृति थी. उन्होंने क्षेत्रीय आकांक्षाओं को सर्वाधिक महत्व दिया...अटलजी ने जो रास्ता हमें दिखाया था बीजेपी उसी पर चल रही है.' पीएम मोदी एक कार्यकर्ता के इस सवाल का जवाब दे रहे थे कि क्या बीजेपी अन्नाद्रमुक, द्रमुक या रजनीकांत के साथ गठबंधन करेगी. रजनीकांत ने अभी अपना राजनीतिक दल नहीं बनाया है. 

'कांग्रेस ने क्षेत्रीय आकांक्षाओं की परवाह नहीं की'
क्षेत्रीय दलों के साथ 'अच्छा व्यवहार ना करने' के लिए कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, 'अटलजी ने जो किया वह कांग्रेस के ठीक विपरीत है जिसने कभी क्षेत्रीय आकांक्षाओं की परवाह नहीं की.' उन्होंने कहा, 'कांग्रेस ने क्षेत्रीय राजनीतिक दलों, महत्वाकांक्षाओं और लोगों के साथ अच्छा व्यवहार नहीं किया क्योंकि उन्हें लगता है कि केवल उनके पास ही सत्ता में होने का अधिकार है.'

भारतीय जनता पार्टी ने 2014 के लोकसभा चुनाव में तमिलनाडु में पीएमके, एमडीएमके समेत छोटे-छोटे क्षेत्रीय दलों के साथ गठबंधन किया था और 39 में से दो सीटों पर जीत दर्ज की थी जिसमें से एक सीट पार्टी ने और दूसरी पीएमके ने जीती थी.

(इनपुट - भाषा)