पठानकोट में क्यों बोले केजरीवाल, 'पंजाब की मां-बहनों को मेरा काला रंग पसंद'
X

पठानकोट में क्यों बोले केजरीवाल, 'पंजाब की मां-बहनों को मेरा काला रंग पसंद'

पंजाब में अगले साल होने जा रहे असेंबली चुनाव (Punjab Assembly Election 2022) के लिए सियासी माहौल लगातार गरम हो रहा है. आम आदमी पार्टी (AAP) के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने पठानकोट में रैली करके कांग्रेस की चन्नी सरकार पर निशाना साधा है. 

पठानकोट में क्यों बोले केजरीवाल, 'पंजाब की मां-बहनों को मेरा काला रंग पसंद'

चंडीगढ़: पंजाब में अगले साल होने जा रहे असेंबली चुनाव (Punjab Assembly Election 2022) के लिए सियासी माहौल लगातार गरम हो रहा है. आम आदमी पार्टी (AAP) के राष्ट्रीय संयोजक और सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) पंजाब के पठानकोट शहर में तिरंगा रैली की. 

अरविंद केजरीवाल के साथ रैली में दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया, पंजाब के सह-प्रभारी राघव चड्ढा और पार्टी लीडर भगवंत मान भी शामिल रहे. रैली में पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी पर निशाना साधा. 

चरणजीत सिंह चन्नी पर साधा निशाना

केजरीवाल ने कहा, 'जब से मैंने कहा कि पंजाब की हर महिला को 1000 रुपये महीना देंगे, चन्नी साहिब मुझे गालियां दे रहे हैं. बोलते हैं कि केजरीवाल के कपड़े खराब हैं. आज बोले कि केजरीवाल काला है. चन्नी साहिब, मेरा रंग काला है. पर पंजाब की मेरी मां बहनों को ये काला बेटा/भाई पसंद है.उनको पता है कि मेरी नीयत साफ़ है.'

राज्य में कर चुके हैं 3 बड़े वादे

बता दें कि चन्नी ने एक कार्यक्रम में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को काला अंग्रेज कहा था. इसका जवाब देते हुए केजरीवाल ने यह ट्वीट किया. अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) पंजाब में आम आदमी पार्टी (AAP) की सरकार बनने पर 300 यूनिट मुफ्त बिजली व 24 घंटे बिजली की आपूर्ति, सरकारी अस्पतालों में मुफ्त इलाज व दवाएं और महिलाओं को 1,000 रुपये प्रति महीना देने का वादा पहले ही कर चुके हैं. 

ये भी पढ़ें- सुप्रीम कोर्ट से फटकार के बाद दिल्ली सरकार का फैसला, स्कूल जाने वाले बच्चों को मिली बड़ी राहत

पिछले 10 दिनों में राज्य का तीसरा दौरा

वे इस तिरंगा रैली में चौथी गारंटी की घोषणा करने के लिए पहुंचे. अरविंद केजरीवाल ने चौथी गारंटी सभी बच्चों को बेहतरीन शिक्षा की दी. केजरीवाल ने कहा कि पिछले 5 साल में आम आदमी पार्टी की सरकार ने दिल्ली के स्कूलों का कायाकल्प कर दिया है. इस साल स्कूलों के रिजल्ट अच्छे आए हैं. सरकारी स्कूलों में इस बार प्राइवेट स्कूल छोड़कर आए ढाई लाख बच्चों ने एडमिशन लिया है. अगर पंजाब में भी AAP की सरकार बनी तो यहां के स्कूलों को भी ऐसे ही चमका दिया जाएगा. 

आम आदमी पार्टी वर्ष 2017 में राज्य में सरकार बनाने से चूक गई थी. अरविंद केजरीवाल इस बार राज्य में पार्टी को मजबूत करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं. वे पंजाब में ताबड़तोड़ दौरा कर रहे हैं. पिछले 10 दिनों में केजरीवाल का राज्य में यह तीसरा दौरा है. वे पंजाब में अपनी पार्टी की सरकार बनने पर राज्य में 16 हजार मोहल्ला क्लीनिक बनवाने का भी वादा कर चुके हैं. 

LIVE TV

Trending news