CWC की बैठक में राजस्थान के 4 नेता करेंगे शिरकत, Gehlot और सोनिया गांधी की मुलाकात पर सबकी निगाहें
X

CWC की बैठक में राजस्थान के 4 नेता करेंगे शिरकत, Gehlot और सोनिया गांधी की मुलाकात पर सबकी निगाहें

 बैठक में वर्तमान राजनीतिक मुद्दों के अलावा आगामी विधानसभा चुनाव और पार्टी के नए अध्यक्ष के चुनाव को लेकर मंथन होगा.

CWC की बैठक में राजस्थान के 4 नेता करेंगे शिरकत, Gehlot और  सोनिया गांधी की मुलाकात पर सबकी निगाहें

Jaipur: दिल्ली में कल होने वाली कांग्रेस वर्किंग कमेटी (Congress Working Committee) की बैठक में इस बार राजस्थान के 4 नेता शिरकत करने वाले हैं. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot) के अलावा गुजरात प्रभारी के तौर पर डॉ रघु शर्मा (Dr Raghu Sharma), पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव भंवर जितेंद्र सिंह और सीडब्ल्यूसी के सदस्य रघुवीर मीणा शामिल होंगे. बैठक में वर्तमान राजनीतिक मुद्दों के अलावा आगामी विधानसभा चुनाव और पार्टी के नए अध्यक्ष के चुनाव को लेकर मंथन होगा. लेकिन इस दौरे के दौरान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सोनिया गांधी से होने वाली मुलाकात पर सबकी निगाहें टिकी हुई हैं.

सीडब्ल्यूसी में इस बार राजस्थान का दबदबा रहने वाला है
16 अक्टूबर को दिल्ली में आयोजित होने जा रहे कांग्रेस (Congress) की सर्वोच्च इकाई, कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक यानी सीडब्ल्यूसी (CWC) में इस बार राजस्थान का दबदबा रहने वाला है. लंबे अरसे के बाद ऐसा पहली बार हो रहा है जब राजस्थान से जुड़े चार नेता कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में शामिल होंगे. पिछले डेढ़ साल से कोरोना संकट के चलते कांग्रेस वर्किंग कमेटी बैठक वर्चुअल होती आई है. कोरोना संक्रमण कम होने के बाद पहली बार वर्किंग कमेटी की बैठक वर्चुअल न होकर फिजिकली हो रही है.

यह भी पढ़ें- Rajasthan Weather Update: तापमान में गिरावट, 16 और 17 अक्टूबर को इन जगहों पर बारिश की संभावना

संगठन चुनाव को लेकर होगी चर्चा 
16 अक्टूबर को सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) की अध्यक्षता में एआईसीसी मुख्यालय (AICC Headquarters) में सुबह 10 बजे से आयोजित होने वाली बैठक में वर्तमान ज्वलंत राजनीतिक मुद्दों, आगामी विधानसभा चुनाव (Assembly elections) और संगठन चुनाव को लेकर चर्चा होगी. दरअसल 16 अक्टूबर को होने जा रही कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक राजस्थान के लिहाज से इसलिए भी अहम है चूंकि लंबे अरसे के बाद राजस्थान के नेताओं को कांग्रेस की सर्वोच्च ईकाई कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में प्रतिनिधित्व करने का मौका मिला है. 

गहलोत भी कांग्रेस वर्किंग कमेटी में बतौर मुख्यमंत्री शामिल हो रहे हैं
अलवर के पूर्व सांसद भंवर जितेंद्र सिंह पार्टी राष्ट्रीय महासचिव होने के चलते वर्किंग कमेटी के सदस्य हैं. पूर्व सांसद रघुवीर मीणा (Raghuveer Meena) भी कांग्रेस कमेटी के सदस्य हैं. वहीं हाल ही में गुजरात और दमन-द्वीप के प्रभारी बनाए गए चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा भी तीन राज्यों के प्रभारी बनाए जाने के बाद पहली बार वर्किंग कमेटी की बैठक में शामिल होंगे. इसके अलावा अशोक गहलोत भी कांग्रेस वर्किंग कमेटी में बतौर मुख्यमंत्री शामिल हो रहे हैं.

यह भी पढ़ें- Petrol-Diesel Rate Today: पेट्रोल-डीजल 15 दिन में 12 बार महंगा, जानें कितने बढे़ भाव

मुख्यमंत्री गहलोत के दिल्ली दौरे से सरकार और संगठन में होने वाले बदलावों का सीधा संबंध है.
इस दौरे के दौरान अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) की सोनिया गांधी से मुलाकात पर सबकी निगाहें टिकी हैं. सोनिया गांधी से मुलाकात होने पर लंबे समय से अटके मंत्रिमंडल फेरबदल, राजनीतिक नियुक्तियों और संगठन विस्तार पर मंजूरी मिल सकती है. सचिन पायलट (Sachin Pilot) खेमे के नेताओं को सत्ता संगठन में जगह देने के फार्मूले पर भी चर्चा होनी है. गहलोत इस दौरे में संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल (KC Venugopal), प्रभारी अजय माकन (Ajay Maken) सहित पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं से भी मिलेंगे.

यह भी पढ़ें- 90 वर्षीय नानगराम की दुखभरी दास्तां, छीना गया करोड़ों का घर

सोनिया गांधी ने 16 अक्टूबर को कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक बुलाई है
दरअसल कांग्रेस वर्किंग कमेटी की आखिरी बैठक 22 जनवरी को हुई थी. कांग्रेस के असंतुष्ट नेताओं का धड़ा जी-23 लंबे समय से कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक बुलाने और पूर्णकालिक अध्यक्ष की मांग करता आ रहा है. जी-23 के नेताओं की मांग के बाद कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने 16 अक्टूबर को कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक बुलाई है. निश्चित तौर पर बैठक में पार्टी के नए अध्यक्ष और पार्टी के अंदरूनी मामलों का मसला उठेगा और इस बात की पूरी संभावना है कि इस बैठक में चर्चा के बाद पार्टी को जल्द पूर्णकालिक अध्यक्ष मिल पाएगा.

Trending news