REET अभ्यर्थियों के साथ प्रशासन की अग्नि परीक्षा कल, युद्ध स्तर पर तैयारियां पूरी
X

REET अभ्यर्थियों के साथ प्रशासन की अग्नि परीक्षा कल, युद्ध स्तर पर तैयारियां पूरी

राज्य में अब तक के इतिहास की सबसे बड़ी परीक्षा रीट भर्ती 2021 कल पूरे राज्य में होने वाली है. अस्थाई बस स्टैंडों पर अभ्यर्थियों की भीड़ नजर आ रही है. सरकार ने रोडवेज और प्राइवेट बसों में निशुल्क यात्रा का ऐलान किया है. 

REET अभ्यर्थियों के साथ प्रशासन की अग्नि परीक्षा कल, युद्ध स्तर पर तैयारियां पूरी

Jaipur: रीट एग्जाम (REET Exam) कल है लेकिन प्रशासन की परीक्षा अभ्यर्थियों के आने के साथ ही शुरू हो गई है. रीट परीक्षा केवल परीक्षार्थियों के लिए ही नहीं, प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती बन गई है. 

जयपुर में 592 परीक्षा केंद्रों पर 2 लाख 51 हजार परीक्षार्थी अपना भाग्य अजमाएंगे. रीट के सफल संचालन के लिए जयपुर जिले में थ्री टियर व्यवस्था की गई हैं. जयपुर में पांच अस्थाई बस स्टैंड, 24 कलस्टर स्टैंड और कलस्टर स्टैंड से परीक्षा केन्द्रों तक परीक्षार्थियों को पहुंचाने के लिए आवागमन के साधनों की व्यवस्था की गई है. अफवाहों और नकल रोकने के लिए जयपुर संभाग के दौसा, झुंझुनूं, सीकर, अलवर और जयपुर ग्रामीण में इंटरनेट बंद कर दिया गया हैं हालांकि जयपुर शहर में नेटबंदी को लेकर कोई फैसला नहीं हुआ है.

यह भी पढ़ें- REET एग्जाम से पहले Satish Poonia का राज्य सरकार पर हमला, लगाया ठगी का आरोप

राज्य में अब तक के इतिहास की सबसे बड़ी परीक्षा रीट भर्ती 2021 कल पूरे राज्य में होने वाली है. अस्थाई बस स्टैंडों पर अभ्यर्थियों की भीड़ नजर आ रही है. सरकार ने रोडवेज और प्राइवेट बसों में निशुल्क यात्रा का ऐलान किया है. परीक्षा देने के लिए जयपुर में अभ्यर्थियों का आना आज सुबह से शुरू हो गया है. वहीं, जयपुर से दूर-दराज के जिलों में परीक्षा देने वाले स्टूडेंटस भी जाने लगे हैं. इसके लिए जयपुर जिला प्रशासन ने जयपुर शहर के अलग-अलग 5 एंट्री पोइंट्स पर अस्थायी बस स्टैंड बनाए हैं, जहां से बसों का संचालन और अभ्यर्थियों के लिए रहने, खाने और लोकल ट्रांसपोर्ट की व्यवस्था करवाई जा रही है. मुख्य सचिव से लेकर मुख्यमंत्री स्तर तक इसकी मॉनिटरिंग की जा रही है. इस पेपर को सफल बनाने के लिए जयपुर समेत पूरे प्रदेश में प्रशासनिक अमला जुट गया है क्योंकि इस परीक्षा में करीब 26 लाख अभ्यर्थी परीक्षा देंगे.

इतिहास में सबसे बड़ी परीक्षा मानी जा रही यह REET
बड़ी बात ये है कि यह परीक्षा एक ही दिन में होने जा रही है, जो राजस्थान के इतिहास में सबसे बड़ी परीक्षा मानी जा रही है. राजधानी जयपुर की बात करें तो यहां 2.51 लाख से ज्यादा परीक्षार्थी परीक्षा देंगे. इसमें जयपुर के लोकल रहने वाले अभ्यर्थियों के अलावा 1.37 लाख से ज्यादा अभ्यर्थी राज्य के दूसरे जिलों से होंगे.जयपुर में रीट परीक्षा के लिए कुल 592 परीक्षा केंद्र बनाए है, जिन पर लगभग 2.51 लाख से ज्यादा परीक्षार्थी परीक्षा देंगे. इनमें से जयपुर शहर में 458 केंद्र है जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में 134 परीक्षा केंद्र. इन अभ्यर्थियों में से जयपुर जिले के रहने वाले करीब 1.14 लाख अभ्यर्थी है, जबकि दूसरे जिलों (बाहर) से आने वाले अभ्यर्थियों की संख्या 1.37 लाख से ज्यादा है. जिला कलक्टर अन्तर सिंह नेहरा ने बताया कि परीक्षा के सफल संचालन के लिए कलक्ट्रेट में एक कंट्रोल रूम बनाया है. यह कंट्रोल रूम 27 सितम्बर तक चलेगा, जिस पर कोई भी व्यक्ति 0141-2204463 और 2204464 फोन करके परीक्षा और उससे जुड़ी व्यवस्थाओं जैसे जयपुर शहर में कहां-कहां बस स्टेण्ड है, किस जिले के लिए कहां से बस मिलेगी. जयपुर शहर में रहने-ठहरने की कहां-कहां व्यवस्थाएं हैं, समेत तमाम जानकारी मिलेगी.

रीट के सफल संचालन के लिए जयपुर जिले में थ्री टियर व्यवस्था
जयपुर जिले में परीक्षा केंद्रों की संख्या- 592
जयपुर शहर में परीक्षा केंद्रों की संख्या- 458
परीक्षा में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों की संख्या- 2.51  लाख
दूसरे जिले से आने वाले परीक्षार्थियों की संख्या- 1.37 लाख
जयपुर लोकल के परीक्षार्थियों की संख्या- 1.14
जयपुर शहर में पुलिस जाब्ता- 6 हजार
डिप्टी कॉर्रिनेटर- 311
फ्लाइंग टीम- 98, जिनके पास 4-6 परीक्षा केंद्रों की जिम्मेदारी
जिला स्तरीय कंट्रोल रूम नंबर- 0141-2204463 और 2204464
.................................................

ये भी प्रशासन की ओर से की गई व्यवस्था
जयपुर में पांच अस्थाई बस स्टैंड बनाए, 24 कलस्टर बनाए गए
कलस्टर स्टैंड से परीक्षा केन्द्रों तक परीक्षार्थियों को पहुंचाने के लिए साधन
इंदिरा रसोईयों पर भोजन के पैकेट्स भी उपलब्ध रहेंगे
कलस्टर स्टैंड के आस-पास होटल और ढ़ाबों पर खाद्य सामग्री की व्यवस्था
बस स्टैण्डों पर प्रशासनिक-पुलिस अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई
परीक्षा केन्द्रों सीसीटीवी कैमरा और वीडियोग्राफी की व्यवस्था भी की गई
परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र पर डिस्पोजल मास्क उपलब्ध कराए जाएगे
परीक्षा केंद्र में किसी को भी मोबाइल ले जाने की अनुमति नहीं होगी
.................................................

अधिकारियों को ऐसे बांटी जिम्मेदारियां
-प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर तलाशी के लिए महिला पुलिसकर्मी के सहयोग के लिए एक महिला कार्मिक, शिक्षिका, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता नियुक्त
-महिला अभ्यर्थियों की तलाशी के लिए अस्थाई एनक्लोजर
-आरटीओ व डीटीओ को अभ्यर्थियों के लिए निजी बसों में नि:शुल्क परिवहन व्यवस्था का जिम्मा दिया
-दोनों पारियों में प्रत्येक अभ्यर्थी को प्रवेश स्थल पर पुराना मास्क हटवाकर नया सर्जिकल मास्क दिया जाएगा
-परीक्षा केन्द्रों पर सैनिटाइजर, थर्मल गन और जरूरी दवाइयों व मेडिकल टीम की नियुक्त

जयपुर जिला प्रशासन ने 1480 बसों की व्यवस्था की
जयपुर से बाहर दूसरे जिलों में जाने वाले अभ्यर्थियों के लिए जयपुर जिला प्रशासन ने 1480 बसों की व्यवस्था की है, जिनका संचालन आज सुबह 6 बजे से शुरू कर दिया. इसमें 1100 से निजी बसें है, जबकि 380 रोडवेज की बसें. ये बसें तीन दिन 27 सितम्बर तक संचालित होगी. अलवर, बहरोड़, भिवाड़ी, कोटपूतली, झुंझुनूं क्षेत्र के लिए दिल्ली बाइपास पर सूरजपोल मण्डी के बाहर ट्रांसपोर्ट नगर से बसे संचालित हो रही है. इसी तरह भरतपुर, दौसा, करौली, धौलपुर जिलों के लिए रोडवेज बस स्टैंड घाट की गूणी टनल से पहले आगरा रोड से, अजमेर, उदयपुर, जोधपुर, पाली, जालौर, सिरोही, राजसमंदर रूट पर जाने वालों के लिए अजमेर रोड पर बदरवास नारायण विहार तिराहा पर, इसी तरह टोंक, कोटा, सवाई माधोपुर, भीलवाड़ा रूटों पर जाने वालों के लिए टोंक रोड पर तारों की कूंट पैट्रोल पंप के सामने से और सीकर, बीकानेर, चूरू, श्रीगंगानगर जाने वालों के लिए विद्याधर नगर स्टेडियम सीकर रोड से बसों का संचालन किया जा रहा है. इसी तरह दूसरे जिलों से जयपुर आने वाले अभ्यर्थियों की सुविधा के लिए इन्ही बस स्टेण्ड से जयपुर के अलग-अलग सेंटर्स तक पहुंचाने के लिए प्रशासन ने 1048 लोकल बसों, 250 लो फ्लोर बस और 230 ग्रामीण सेवा की बसों लगाई है, जो आज और कल दो दिन तक चलेगी.

यातायात और कानून व्यवस्था के लिए खास इंतजाम
रीट परीक्षार्थियों को किसी भी तरीके की समस्या का सामना ना करना पड़े और जयपुर शहर में यातायात और कानून व्यवस्था भी ना बिगड़े. इसके लिए स्वैच्छिक बंद का व्यापारियों ने ऐलान किया है. खाने-पीने और दवाइयों की दुकानों सहित आवश्यक सेवाओं को इस बंद से मुक्त रखा गया है. कलक्टर ने शहर के आम नागरिकों से भी अपील की है कि रीट परीक्षा के दौरान अतिआवश्यक होने पर ही घर से बाहर निकले. अनावश्यक रूप से उस दिन घर से बाहर न निकलें.

 

Trending news