केंद्र सरकार पर Dotasra का हमला, बोले- वैक्सीन निर्माण के लिए 3 कंपनियों को ही लाइसेंस क्यों?

प्रदेश में ऑक्सीजन (Oxygen) और वैक्सीन (Vaccine) की कमी को लेकर डोटासरा ने एक बार फिर केंद्र सरकार पर हमला किया और कहा कि राजस्थान (Rajasthan) में वैक्सीन और ऑक्सीजन की कमी है, जो केंद्र के हाथ में है.

केंद्र सरकार पर Dotasra का हमला, बोले- वैक्सीन निर्माण के लिए 3 कंपनियों को ही लाइसेंस क्यों?
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा.

Jaipur: पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी (Rajeev Gandhi) की पुण्यतिथि 21 मई से प्रदेश कांग्रेस के नेता, विधायक, मंत्री, पदाधिकारी आदि गांव-गांव में कोरोना (Corona) से बचाव के लिए मास्क, सेनेटाइजर, दवाइयों आदि का वितरण करेंगे और यह अभियान लगातार चलेगा.

यह भी पढ़ें- PM Care से मिले वेंटीलेटर्स के ऑडिट करवाने के फैसले को लेकर CM Gehlot ने किया ट्वीट

 

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा (Govind Singh Dotasra) ने शनिवार को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में मीडिया से बातचीत में यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि यह सही है कि गांवों में संक्रमण तेजी से फैल रहा है. इसके लिए सरकार ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों को कोविड सेंटर (Covid Center) बनाना शुरू कर दिया है और अब पार्टी के नेता, मंत्री विधायक सभी गांव-गांव में लोगों को कोरोना से बचाव के साधन वितरित करेंगे.

यह भी पढ़ें- Corona काल में मंत्री Harish Chaudhary का बयान, 'यह समय आरोप-प्रत्यारोप का नहीं है'

प्रदेश में ऑक्सीजन (Oxygen) और वैक्सीन (Vaccine) की कमी को लेकर डोटासरा ने एक बार फिर केंद्र सरकार पर हमला किया और कहा कि राजस्थान (Rajasthan) में वैक्सीन और ऑक्सीजन की कमी है, जो केंद्र के हाथ में है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को ग्लोबल टेंडर कर देश में वैक्सीन लानी चाहिए न कि राज्यों को. प्रदेश में वैक्सीन की कमी है, यही कारण है कि पांच मिनट में स्लॉट बंद करना पड़ जाता है. उन्होंने केंद्र से सवाल पूछते हुए कहा कि क्यों वैक्सीन निर्माण के लिए तीन ही कंपनियों को लाइसेंस दिया जा रहा है और क्यों सीरम जैसी कम्पनियां 90 प्रतिशत वैक्सीन दूसरे देशों को दे रही हैं. ऐसी बातें तो प्रधानमंत्री और केंद्र सरकार के अधिकार क्षेत्र में आती है. राज्य सरकार केवल सुविधाएं, बेड, दवाइयां, उपलब्ध ऑक्सीजन का वितरण और प्रबंधन का काम कर सकती है, जो राजस्थान में मुख्यमंत्री लगातार सबसे सब वर्गों से चर्चा कर पूरा कर रहे हैं.

और क्या बोले गोविंद सिंह डोटासरा
डोटासरा ने कहा कि राजस्थान को चाहिए 795 मीट्रिक टन ऑक्सीजन और मिल सिर्फ 365 मीट्रिक टन रही है. 140 मीट्रिक टन अतिरिक्त ऑक्सीजन का अलॉटमेंट किया गया, लेकिन जहां से ऑक्सीजन आएगी, वह स्थान हजारों किलोमीटर दूर है. डोटासरा ने कहा कि जैसे प्रदेश में कांग्रेस सरकार है. ऐसे में हमारी ड्यूटी बनती है कि हमारी व्यवस्था को कैसे दुरुस्त रख लोगों की जान बचाई जा सके.  उसी तरीके से जब ऑक्सीजन, दवाइयों, संसाधनों की आवश्यकता है तो यह पूर्ति करना भी केंद्र की ड्यूटी है.

बीजेपी के लोग कर रहे अच्छा काम
उन्होंने कहा कि कोरोना पीड़ित लोगों की सहायता के लिए भाजपा के लोग भी अच्छा काम कर रहे हैं. इस काम में मेरी उनसे कोई शिकायत नहीं है. हमारी शिकायत सिर्फ यह है कि 25 सांसदों और तीन केंद्रीय मंत्रियों के बावजूद राजस्थान को उसका हिस्सा नहीं मिल रहा है.

पीएम केयर फंड से मिले वेंटिलेटर पर दिया बड़ा बयान
पीएम केयर फंड से मिले वेंटिलेटर को लेकर भी कहा कि केंद्र से हमें वेंटिलेटर मिले, उनमें से 70 फीसदी चल नहीं रहे हैं. यह अच्छी बात है कि प्रधानमंत्री ने इसकी जांच के लिए कहा है, लेकिन जांच कब होगी और दूसरे वेंटीलेटर कब आएंगे? यह देखना होगा. डोटासरा ने कहा कि अब तक इनके कारण जिन लोगों की मौत हुई है, उनकी जिम्मेदारी भी तय होनी चाहिए.