REET 2021: महा'परीक्षा' हुई संपन्न, सरकार ने ली राहत की सांस

परीक्षा के दौरान पेपर लीक, अफवाह को रोकने, कानून व्यवस्था नियंत्रण सहित दुर्घटनाओं को रोकने के लिए व्यापक इंतजाम किए गए. 

REET 2021: महा'परीक्षा' हुई संपन्न, सरकार ने ली राहत की सांस
कड़ी सुरक्षा के बीच रीट परीक्षा दो पारियों में आयोजित की गई.

Jaipur: प्रदेश की अब तक की सबसे बड़ी महापरीक्षा अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) शांतिपूर्ण सम्पन्न हुई. कड़ी सुरक्षा के बीच रीट परीक्षा दो पारियों में आयोजित की गई. परीक्षा को निष्पक्ष और शांतिपूर्ण कराने के लिए पुलिस, प्रशासन और यहां तक सरकार ने कमर कस रखी थी. प्रदेश में कुछ जगह फर्जी अभ्यर्थियों, नकल गिरोह के सदस्यों और ब्लूट्रूथ सहित अन्य डिवाइस पकड़े जाने की घटनाओं को छोड़कर परीक्षा शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न होने पर सरकार (Rajasthan Government) ने राहत की सांस ली.

यह भी पढ़ेंः REET परीक्षा शांतिपूर्ण रूप से हुई संपन्न, अभ्यर्थी ने कहा- पेपर काफी सरल था

रीट (REET Exam 2021) परीक्षा के लेवल दो का पेपर पहली पारी में सुबह दस से साढ़े 12 बजे तक हुआ और शाम को परीक्षा के पहले लेवल का पेपर ढाई से पांच बजे तक हुआ. राज्य में रीट परीक्षा के लिए करीब 16 लाख 51 हजार अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था. इनके लिए प्रदेशभर में 3 हजार 3,993 परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा आयोजित की गई. परीक्षार्थियों को परीक्षा सेंटर में प्रवेश से पहले पूरी सुरक्षा जांच की गई. हालांकि फिर भी अजमेर, अलवर, जयपुर सहित कुछ जिलों में संदिग्ध गिरोह पकड़े गए. 

प्रदेश की महापरीक्षा रीट (REET Exam) के निष्पक्ष और बिना किसी झंझट और कानून व्यवस्था बनाए रखना बड़ी चुनौती थी, जिसको सरकार ने पार कर लिया. परीक्षा के दौरान पेपर लीक, अफवाह को रोकने, कानून व्यवस्था नियंत्रण सहित दुर्घटनाओं को रोकने के लिए व्यापक इंतजाम किए गए. इसके लिए नेटबंदी से लेकर भारी पुलिस जाब्ता तैनात किया गया. 

प्रदेश के जिलों में एक दिन के लिए इंटरनेट बंद किया गया. वहीं पुलिस ने खुफिया निगरानी रखी. प्रत्येक परीक्षा सेंटर पर दो पुलिसकर्मी, दो महिला पुलिकर्मी और दो होमगार्ड जवान तैनात किए गए थे. इनके अलावा सादावर्दीधारी पुलिसकर्मी  भी नजर बनाए हुए थे.

यह भी पढ़ेंः कड़ी निगरानी में Rajasthan के इतिहास की सबसे बड़ी प्रतियोगी परीक्षा REET 2021 संपन्न

इधर, इतनी बड़ी संख्या में अभ्यर्थियों में शहर में आने के कारण यातायात व्यवस्था बिगड़ना लाजिमी था लेकिन पुलिस, परिवहन विभाग के इंतजामों के कारण ज्यादा परेशानी का सामना नहीं करना पड़ा. जयपुर शहर (Jaipur News)  के पांच प्रमुख हाईवे पर शहर से बाहर ही अस्थाई बस डिपो बनाए गए, जिससे उन रूटों से आकर बसें वहीं खड़ी कर ली गई और मिनी, सिटी बसों से अभ्यर्थियों को शहर में बने परीक्षा केंद्र भेजा गया. इसी प्रकार की प्रक्रिया परीक्षा खत्म होने के बाद भी की गई. हालांकि इस दौरान कुछ देर के लिए कई जगह यातायात जाम की स्थिति बनी लेकिन तुरंत काबू में कर ली गई.