वैचारिक प्रतिबद्धताओं से ऊपर उठकर महामारी के खिलाफ संघर्ष में एकजुट हों: गहलोत

Jaipur News: सीएम ने कहा कि राजनेताओं का भी यह दायित्व है कि महामारी के दौर में एक-दूसरे का संबल बने और इस जंग को जीतने के लिए लोगों को प्रेरित करें.   

वैचारिक प्रतिबद्धताओं से ऊपर उठकर महामारी के खिलाफ संघर्ष में एकजुट हों: गहलोत
कोरोना की स्थिति पर सीएम गहलोत ने विभिन्न दलों के नेताओं के साथ संवाद किया. (तस्वीर साभार-@ashokgehlot51)

Jaipur: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राजनेताओं और राजनीतिक कार्यकर्ताओं से आहवान किया है कि वे अपनी वैचारिक प्रतिबद्धताओं से ऊपर उठकर कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ संघर्ष में एकजुट हों. उन्होंने कहा कि मानव सेवा सभी राजनीतिक कार्यकर्ताओं का धर्म है और आज इसे निभाने का समय है, इसलिए समाज के सभी वर्ग इस संकटकाल में यथासंभव मदद कर रहे हैं.

सीएम ने कहा कि राजनेताओं का भी यह दायित्व है कि महामारी के दौर में एक-दूसरे का संबल बने और इस जंग को जीतने के लिए लोगों को प्रेरित करें. गहलोत मंगलवार को विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण के विषय पर सर्वदलीय संवाद कर रहे थे.

ये भी पढ़ें-राजस्थान में कोविड मरीजों को भर्ती करने से मना नहीं कर सकेंगे अस्पताल, फ्री में मिलेगा एबुंलेंस

 

उन्होंने कहा, ‘प्रदेश और देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर बहुत अधिक घातक रूप लेकर आई है और इसका प्रसार सरकारों की तैयारियों से कई गुना तेज गति से बढ़ रहा है. इस संक्रमण को रोकना ही सर्वाधिक जरूरी काम है, जिसमें राजनीतिक कार्यकताओं और नेताओं की बड़ी भूमिका हो सकती है.’

मुख्यमंत्री ने बताया कि कोरोना संकट से जूझने सहित जनहित में राजनेताओं तथा आमजन द्वारा की गई शिकायत और सुझावों को राज्य सरकार गंभीरता से लेती है. उन्होंने कहा , ‘हम ऐसी शिकायतों को आलोचना के रूप में नहीं लेते, क्योंकि हमारा मानना है कि सरकार के प्रयासों में रही कमी पर ध्यान आकर्षित करने से किसी बीमार को आवश्यक सुविधा मिल सकेगी तथा किसी जरूरतमंद व्यक्ति को लाभ ही होगा.’

उन्होंने अग्रिम मोर्चा के कर्मियों, सरकार और अधिकारियों द्वारा कोरोना से लड़ने के लिए किए जा रहे प्रयासों की सराहना करने पर राजनेताओं का आभार भी व्यक्त किया. गहलोत ने प्रदेश में मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति का कोटा बढ़ाने के लिए केन्द्र सरकार से की जा रही मांग पर सभी राजनैतिक दलों से समर्थन मांगा.

ये भी पढ़ें-कोरोना संकट के बीच वेदांता केयर्न बाड़मेर में बनाएगी 100 बेड का अस्पताल

 

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी सहित सभी पार्टियों के नेता केन्द्र सरकार से अपील करें कि राजस्थान में कोरोना संक्रमितों की बड़ी संख्या के दृष्टिगत चिकित्सकीय आक्सीजन, अन्य संसाधनों तथा उपकरणों की अधिकाधिक पूर्ति की जाए. उन्होंने कहा कि सभी पार्टियां प्रदेश में सम्पूर्ण टीकाकरण के लिए टीके की आपूर्ति बढ़ाने की मांग को भी पुरजोर ढ़ंग से केन्द्र के समक्ष रखें.

विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष (भाजपा) गुलाब चन्द कटारिया ने कहा कि सभी राजनीतिक दल राज्य सरकार के साथ रचनात्मक सहयोग की अपनी जिम्मेदारी निभाएंगे. 

(इनपुट-भाषा)