राजस्थान: मिठास देने वाली 50 हजार 621 क्विंटल चीनी अफसरों को लगेगी कड़वी

राजस्थान में पिछले एक साल से किराये के गोदामों में बीस करोड़ से ज्यादा की 50 हजार 621 क्विंटल चीनी बेकार पड़ी है.

राजस्थान: मिठास देने वाली 50 हजार 621 क्विंटल चीनी अफसरों को लगेगी कड़वी
राजस्थान में पिछले एक साल से किराये के गोदामों में बीस करोड़ से ज्यादा की 50 हजार 621 क्विंटल चीनी बेकार पड़ी है.

दीपक गौयल/जयपुर: प्रदेश में किराये के गोदामों में रखी चीनी पर 'कमीशन' का खेल जमकर हो रहा है. मामला पूरा खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग में राशन की चीनी की खरीद में भारी अनियमतता से जुड़ा है. 25 हजार से ज्यादा राशन डीलर्स और क्रय विक्रय सहकारी समितियों के पास चीनी का स्टॉक होने के बावजूद राजस्थान राज्य खाद्य निगम ने 32 करोड़ की अतिरिक्त चीनी खरीद ली. वहीं, जब माल नहीं उठा तो किराये के गोदाम लेकर उसमें एक लाख बोरी स्टॉक कर दी. जो चीनी अब धीरे-धीरे खराब हो रही है.

प्रदेश में गरीबी रेखा से नीचे के लोगों की जिंदगी से मिठास खत्म हो गई है. राजस्थान में पिछले एक साल से किराये के गोदामों में बीस करोड़ से ज्यादा की 50 हजार 621 क्विंटल चीनी बेकार पड़ी है. सरकार ने इतनी चीनी रखने के लिए किराये के गोदाम ले रखे हैं. इसके साथ ही चीनी खरीदी में ओवर ड्राफ्ट लेने से सरकारी पैसा भी अटक गया है. वर्तमान में प्रदेश में केवन अंत्योदय परिवारों को ही एक किलो चीनी दी जाती है. इनकी संख्या करीब 6.18 लाख हैं. अगर सभी परिवारों को नियमित रूप से भी चीनी दी जाती है तो और अगले दो साल तक यह चीनी समाप्त नहीं होगी.

राज्य खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति निगम के पास स्वयं के गोदाम नहीं है इसलिए कई जिलों में किराये पर गोदाम लेकर चीनी रखनी पड़ रही है. किसी जिले में दस हजार तो कही 50 हजार रूपए प्रति माह गोदाम किराये के रूप में चुकाया जा रहा है. जिलों में तैनात प्रबंधकों ने भी गोदामों की जांच कर रिपोर्ट में साफ लिखा है कि अत्यधिक स्टॉक होने और राशन की दुकानों द्वारा उठाव नहीं होने से गोदामों में रखी चीनी जमने लगी है. उधर, जिम्मेदार अफसरों ने इस रिपोर्ट पर गौर नहीं फरमाया और चीनी वितरण के आदेश तक जारी नहीं किए. खाद्य सचिव मुग्धा सिन्हा का कहना है कि हमने चीनी की क्वालिटी एंश्योरेंस जांच की है. सब जगह चीनी सही है. हम चीनी का स्टॉक जल्द से जल्द खत्म करने का प्रयास कर रहे हैं.

कहां कितनी चीनी स्टॉक में पड़ी है
जिले का नाम---------------------------चीनी क्विंटल में 
टोंक-----------------------------------1060
नागौर---------------------------------397
झालावाड-----------------------------1527
प्रतापगढ------------------------------1315
अजमेर--------------------------------3127
हनुमानगढ-----------------------------780
श्रीगंगानगर-----------------------------1396
बांसवाडा------------------------------6096
अलवर--------------------------------3315
डूंगरपुर--------------------------------4200
जालौर---------------------------------2141
भीलवाडा------------------------------1985
दौसा----------------------------------1109
चित्तौडगढ-----------------------------1921
जैसलमेर------------------------------1300
बाडमेर-------------------------------3223
झुंझुनूं--------------------------------805
सिरोही-------------------------------400
चूरू---------------------------------2097
कोटा--------------------------------1200
करौली--------------------------------2230
जोधपुर--------------------------------1597
उदयपुर--------------------------------7000
बीकानेर--------------------------------400
कुल-----------------------------------50,621