कृषि कानूनों की वापसी के बाद भी अड़े राकेश टिकैत, सरकार के सामने रखीं 3 मांगें
X

कृषि कानूनों की वापसी के बाद भी अड़े राकेश टिकैत, सरकार के सामने रखीं 3 मांगें

Rakesh Tikait On Farmers Protest: राकेश टिकैत ने कहा कि किसानों के खिलाफ दर्ज केस वापस लेने होंगे. सरकार को एमएसपी पर कानून बनाना ही होगा. कानून नहीं बनने तक किसान आंदोलन खत्म होने वाला नहीं है.

 

कृषि कानूनों की वापसी के बाद भी अड़े राकेश टिकैत, सरकार के सामने रखीं 3 मांगें

नई दिल्ली: तीनों कृषि कानूनों (Three Farm Laws) के रद्द होने के बाद भी किसानों का आंदोलन (Farmers Protest) जारी है. केंद्र सरकार चाहती है कि किसान धरना (Farmers Protest) छोड़कर वापस अपने घर चले जाएं. वहीं किसान MSP, मुआवजे और अपने ऊपर लगे केस वापस लेने की मांग पर अड़े हैं. सयुंक्त किसान मोर्चा (SKM) ने आज (शनिवार को) किसानों की बैठक बुलाई है, जिनमें इन सब मुद्दों और किसानों की घर वापसी पर चर्चा होगी. इस बीच भारतीय किसान यूनियन (BKU) के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने कहा कि एमएसपी (MSP) कानून बनने तक किसान आंदोलन (Farmers Protest) खत्म नहीं होगा.

राकेश टिकैत ने क्या कहा?

राकेश टिकैत ने कहा कि अभी आंदोलन खत्म नहीं हो रहा है. सरकार से बातचीत शुरू हुई है. बातचीत से ही समाधान निकलेगा. सयुंक्त किसान मोर्चा की मीटिंग में आज आगे की रणनीति तय होगी. मुकदमे वापस लेने पर भी बात हो रही है. हरियाणा सरकार से बात हुई है. किसानों के खिलाफ दर्ज केस वापस लेने होंगे. किसानों को मुआवजा देना होगा और एमएसपी पर कानून बनाना ही होगा.

ये भी पढ़ें- पाकिस्तान के कितने पाप! इस बात पर अपने ही लोगों ने कर दी इमरान खान की किरकिरी

SKM की बैठक में इन मुद्दों पर हो सकती है चर्चा

किसान आंदोलन को लेकर सरकार और किसानों के बीच जारी खींचतान के बीच आज संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक होगी, जिसमें आंदोलन की आगे की रणनीति और किसानों की घर वापसी जैसे कई अहम मुद्दों पर चर्चा होगी.

हरियाणा सरकार के साथ बैठक रही बेनतीजा

गौरतलब है कि किसानों के आंदोलन को लेकर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और किसानों के बीच शुक्रवार को कई घंटे तक चली बैठक बेनतीजा रही. बैठक में किसान आंदोलन के दौरान किसानों पर दर्ज मामलों समेत कई मुद्दों पर चर्चा हुई लेकिन कोई हल नहीं निकला.

ये भी पढ़ें- ट्रैफिक पुलिस नहीं छीन सकती आपकी गाड़ी की चाबी? ऐसा करने पर तुरंत बता दें ये नियम

बैठक के बाद हरियाणा के किसान नेता गुरनाम सिंह चढ़ूनी ने कहा कि सरकार के साथ बैठक संतोषजनक नहीं रही. संयुक्त किसान मोर्चा की आज की बैठक में आगे की रणनीति पर फैसला होगा.

कृषि कानून वापस लेने के बाद सरकार चाह रही है कि किसान धरना छोड़कर वापस अपने घर चले जाएं. वहीं किसान नेता राकेश टिकैत MSP के मुद्दे पर अड़े हैं. राकेश टिकैत का कहना है कि किसानों को मुआवजा, MSP और किसानों के खिलाफ दर्ज मामलों की वापसी जैसे मुद्दे अभी सुलझने बाकी हैं.

LIVE TV

Trending news