शिरडी साई मंदिर में मची है रामनवमी की धूम, पालने में झूल रहे रामलला
trendingNow1515914

शिरडी साई मंदिर में मची है रामनवमी की धूम, पालने में झूल रहे रामलला

इस दौरान शिरडी में रामनवमी मनाने पैदल चलते हुए बड़ी संख्या में भक्त यहां पहुंचे है. आपको बता दें कि, 15 दिन पैदल चलकर भक्त यहां पहुंचते हैें. 

रामलल्ला को भक्तों ने पालने में झुलाया. (फाइल फोटो)

शिरडी (महाराष्ट्र): शिरडी साई मंदिर में रामनवमी की धूम दिखी. शिरडी में साई बाबा के मूर्ती के पास रामलल्ला की फोटो की पूजा की गई. साथ ही शिर्डी साई मंदिर परिसर में भक्तो ने पालने मे रामलल्ला की चांदी मूर्ती रखी थी. तो रामलल्ला को भक्तों ने पालने में झुलाते रहे. इस दौरान शिरडी साई मंदिर संस्थान के अध्यक्ष सुरेश हावरे और उनकी पत्नी ने राम लल्ला को पालने में झुलाया. इस दौरान राम जन्म का भजन भी गाया गया. रामजन्म उत्सव में भाग लेने के लिए साई भक्तों की भीड़ यहां उमड़ी है.

15 दिन पैदल चलकर भक्त पहुंचते हैें शिरडी
इस दौरान शिरडी में रामनवमी मनाने पैदल चलते हुए बड़ी संख्या में भक्त यहां पहुंचे है. आपको बता दें कि, 15 दिन पैदल चलकर भक्त यहां शिरडी पहुंचते हैें. साई दर्शन के लिए यहां मुबंई, पुणे, अहमदाबादऔर सुरत से भी भक्त यहां लोग पहुंच रहे है.

मनाया जा रहा है पालकी समारोह
इस रामनवमी उत्सव में पालकी समारोह विशेष महत्व रखता है. 13 अप्रैल की रात पालकी समारोह होगा. यहां 1911 तक साईंबाबा रहे थे. यहां उरुस की शुरुवात हुई. बाद में साईबाबा कि आज्ञा से ही उनके भक्त भिष्म और गोपालराव गुंड ने रामनवमी उत्सव मनना शुरु किया. तबसे आज तक यह उत्सव यहाँ शुरु है . 

Trending news