रोहतांग सुरंग का नाम आज से होगा 'अटल टनल', प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे लॉन्च

पूर्व प्रधानमंत्री की जयंती के मौके पर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) अटल टनल योजना लॉन्च करेंगे. 

रोहतांग सुरंग का नाम आज से होगा 'अटल टनल', प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे लॉन्च
फाइल फोटो

मनाली: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) की जयंती पर आज पूरा देश इस महान नेता को नमन कर रहा है. आज अटल जी हमारे बीच नहीं हैं. लेकिन देश के लिए उनका योगदान, उनकी अद्भुत भाषण शैली और उनकी यादों को हमेशा हिंदुस्तान के दिल में ताजा रखेगी. पूर्व प्रधानमंत्री की जयंती के मौके पर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) अटल टनल योजना लॉन्च करेंगे. आपको बता दें कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती से एक दिन पहले मंगलवार को केंद्रीय मंत्रिमंडल ने रोहतांग सुरंग का नामकरण 'अटल टलन' करने को मंजूरी दे दी है. 

मनाली-लेह मार्ग पर 8.8 किलोमीटर लंबी अटल टनल का तकरीबन 80 फीसदी काम पूरा हो चुका है. दावा किया गया है कि ये विश्व का सबसे ऊंचा टनल होगा. मई 2020 में इसका उद्घाटन प्रस्तावित है. 

रोहतांग टनल बनने से मनाली और केलांग के बीच की दूरी करीब 45 किलोमीटर कम हो जाएगी. टनल बनने से बर्फबारी के कारण साल के 6 महीने देश और दुनिया से कट जाने वाला जनजातीय इलाका लाहौल-स्पिति साल के 12 महीने दुनिया की हलचल से जुड़ा रह पाएगा. गौरतलब है कि समुद्रतल से करीब 12 हजार फीट की ऊंचाई पर बन रही यह दुनिया की सबसे लंबी ट्रैफिक टनल मानी जा रही है. इसके निर्माण पर लगभग चार हजार करोड़ का खर्च आएगा. 

भविष्य में यह टनल लेह लद्दाख में तैनात सेना के लिए भी लाइफ लाइन की तहर काम करेगी. पीर पंजाल की पहाड़ियों को भेदकर बनाई जा रही इस सुरंग के नीचे से एक और टनल का निर्माण हो रहा है, जिसे आपात स्थिति में रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए इस्तेमाल किया जाएगा. बीआरओ की देखरेख में ऑस्ट्रिया और भारत की ज्वाइंट वेंचर स्ट्रॉबेग-एफकॉन कंपनी इसका निर्माण कर रही है.