Delhi में 5 फरवरी से 9वीं-11वीं के लिए खुलेंगे स्कूल, बच्चों को भेजने से पहले जान लें ये 10 नियम

कोरोना महामारी से बचाव के मद्देनजर पिछले कई महीने से स्कूल बंद हैं, जिसे राज्य सरकार धीरे-धीरे करके खोल रही है. ऐसे में दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने 9वीं और 11वीं के छात्रों के लिए 5 फरवरी से स्कूल वापस खोलने का ऐलान किया है.     

Delhi में 5 फरवरी से 9वीं-11वीं के लिए खुलेंगे स्कूल, बच्चों को भेजने से पहले जान लें ये 10 नियम
प्रतीकात्मक तस्वीर।

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Coronairus) महामारी के मद्देनजर बंद किए गए देश की राजधानी दिल्ली स्कूल (Delhi Schools) लंबे ब्रेक के बाद वापस खुलने वाले हैं. डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने शुक्रवार को इस संबंध में आदेश जारी करते हुए 5 फरवरी से स्कूल और डिग्री डिप्लोमा संस्थानों को वापस खोलने का ऐलान किया है.

सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा कि शर्तें वहीं रहेंगी, जिनकी घोषणा 18 जनवरी को 10वीं और 12वीं कक्षा के छात्रों के लिए स्कूल खोलते समय की गई थी. छात्र अभिभावकों की अनुमति के बाद ही कक्षाओं में आ सकेंगे. शारीरिक उपस्थित अनिवार्य नहीं होगी और सभी स्कूलों तथा कॉलेजों से कोविड-19 दिशा-निर्देशों का पालन करने की आशा की जाती है.

ये भी पढ़ें:- राकेश टिकैत का समर्थन करने महापंचायत में उमड़ी किसानों की भीड़, गाजीपुर कूच की अपील

मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर दी जानकारी

उपमुख्यमंत्री ने कहा, 'कोविड-19 नियमों का पालन करते हुए दिल्ली में 5 फरवरी से 9वीं और 11वीं कक्षा के छात्रों के लिए स्कूल खोल दिए जाएंगे. साथ ही कॉलेज तथा डिग्री डिप्लोमा संस्थानों को भी खोल दिया जाएगा. छात्र माता-पिता की अनुमति के बाद ही कक्षाओं में आ सकेंगे.' बताते चलें कि पिछले साल मार्च में कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन लागू किए जाने से पहले से स्कूल बंद हैं.

बच्चों को स्कूल भेजने से पहले जाने लें नियम-

1. सिर्फ 9वीं और 11वीं के बच्चों को माता-पिता की सहमति के बाद स्कूल (Delhi School) आने की अनुमति होगी.

2. स्कूल आने वाले छात्रों का रिकॉर्ड रखा जाएगा, लेकिन यह स्कूल में आने वाले स्टूडेंट का अटेंडेंस नहीं होगा.

3. कंटेनमेंट जोन में स्कूल खोलने की अनुमति नहीं दी जाएगी. इसके अलावा कंटेनमेंट जोन में रहने वाले छात्रों और शिक्षकों को भी स्कूल आने की मंजूरी नहीं दी गई है.

4. स्कूल  (Delhi School) में असेंबली नहीं होगी और छात्रों के फिजिकल आउटडोर एक्टिविटीज की भी अनुमति नहीं होगी.

5. स्कूल में बच्चों की Entry और Exit समेत सभी प्वाइंट पर सोशल डिस्टेंसिंग के दिशानिर्देशों का पालन करना जरूरी होगा.

6. दिल्ली सरकार केवल Pre-Board परीक्षाओं को ध्यान में रखते हुए स्कूलों को फिर से खोल रही है और इस दौरान शिक्षक छात्रों को मार्गदर्शन करेंगे.

7. स्कूल खुलने के बाद भी ऑनलाइन क्लास (Online Class) चलती रहेंगी और घर पर रहने वाले ऑनलाइन क्लास अटेंड कर पाएंगे.

8. स्कूलों में स्टूडेंट्स की क्लास 4 से 5 घंटे से अधिक नहीं चलेगी. क्लास आने वाले छात्रों की संख्या ज्यादा होने के बाद दो पारियों में कक्षाएं चलाई जाएंगी.

9. स्कूलों की तरफ से कोई पिक-ड्रॉप फैसिलिटी नहीं दी जाएगी और छात्रों को खुद से स्कूल पहुंचना होगा.

10. स्कूलों में हर फ्लोर पर हाथ धोने की सुविधा होगी और हर क्लासरूम में स्टूडेंट्स के लिए सैनिटाइजर रखा होगा. इसके अलावा क्लास के पहले और बाद रूम को सैनिटाइज किया जाएगा.

VIDEO-

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.