यूपी के बाद असम में दिखा जहरीली शराब का प्रकोप, 18 मजदूरों की मौत

असम के घोलघाट जिला में जहरीली शराब पीने से 18 लोगों की मौत हो गी है. जबकि 47 लोगों की हालात नाजुक बताई जा रही है. 

यूपी के बाद असम में दिखा जहरीली शराब का प्रकोप, 18 मजदूरों की मौत
फोटो साभार : ANI

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के बाद असम में जहरीली शराब का प्रकोप देखने को मिला है. असम के घोलघाट जिला में जहरीली शराब पीने से 18 लोगों की मौत हो गी है. जबकि 47 लोगों की हालात नाजुक बताई जा रही है. जहरीली शराब पीने से हुई मौत में 14 पुरुष और 4 महिलाएं शामिल हैं. वहीं, नाजुक हालात वाले लोगों को गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेफेर किया गया हैं.

टी-इस्टेट में कार्यरत हैं सभी
जहरीली शराब पीने से जिन 18 लोगों की मौत हुई है, वह सभी सालमरा टी इस्टेट में कार्यरत हैं. एक साथ इतने मजदूरों के शराब पीने से बीमार पड़ने पर लोगों का गुस्सा फूटा है. स्थानीय लोगों का कहना है कि हलमिरा चाय बागान में लोगों ने जहरीली शराब पी थी. इसे शहर के बाहर से लाया गया था. स्थानीय लोगों ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा है कि प्रदेश में खुलेआम जहरीली शराब बेची रही है. इसके बाबजूद आबकारी विभाग और स्थानीय प्रशासनिक अधिकारी इस पर कार्रवाई करने से कतरा रहे हैं.

स्थानीय लोगों का कहना है की अगर आबकारी विभाग और जिला पुलिस देशी ज़हरीली शराब बेचने वालों के खिलाफ करवाई करती तो ये घटना नहीं घटती. कई लोगों का कहना है कि उन्होंने आबकारी विभाग और पुलिस में कई बार शराब बेचने की शिकायत दर्ज कराई थी, इसके बाद भी उन्होंने कोई ठोस कदम नहीं उठाया. 

जिला प्रशासन ने दिए जांच के आदेश
वहीं, दूसरी तरफ घोलघाट जिला प्रसाशन ने इस घटना की न्यायिक जांच के आदेश दे दिए हैं. अतिरिक्त जिला मेजिस्ट्रेट का कहना है कि हमने घटना के सन्दर्भ में जांच की आदेश जारी कर दिए हैं और देशी शराब पीकर मारे गए लोगों के परिवार वालों के लिए भी सरकार से मानवीय आधार पर मदद राशि देने की अनुरोध की है. उन्होंने कहा कि जांच रिपोर्ट आने के बाद ही किसी तरह की करवाई की जा सकती हैं, बहरहाल लोगों से शान्ति बहाल रखने की अपील की हैं और देशी शराब बेचने वालों को गिरफ्तार करने के निर्देश दे दिया गए हैं.