close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

2020 में तैयार हो जाएगा पूर्वोत्तर का तीसरा हवाईअड्डा, अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट होगा अगरतला

एएआई ने विश्वस्तरीय सुविधाएं प्रदान करके अगरतला हवाईअड्डे को अंतर्राष्ट्रीय मानकों में अपग्रेड करने के लिए 438 करोड़ रुपये की परियोजना शुरू की थी. 

2020 में तैयार हो जाएगा पूर्वोत्तर का तीसरा हवाईअड्डा, अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट होगा अगरतला
अगरतला के महाराजा बीर बिक्रम (एमबीबी) हवाईअड्डे को अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बनाने के लिए चल रहे कार्य इस साल के अंत तक पूरे हो जाएंगे.

अगरतला: गुवाहाटी और इंफाल के बाद, अगरतला हवाईअड्डा इस साल के अंत तक या 2020 की शुरुआत में उत्तरपूर्वी क्षेत्र में तीसरा अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा बनने वाला है. एक मंत्री ने यह जानकार दी. त्रिपुरा के परिवहन और पर्यटन मंत्री प्रणजीत सिंघा रॉय ने आईएएनएस से कहा, "भारतीय विमान पत्तन प्राधिकरण (एएआई) ने हमें सूचित किया है कि अगरतला के महाराजा बीर बिक्रम (एमबीबी) हवाईअड्डे को अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बनाने के लिए चल रहे कार्य इस साल के अंत तक पूरे हो जाएंगे. लेकिन अगर मॉनसून के मौसम या किसी अन्य कारक के कारण काम में बाधा आती है, तो 2020 तक इसकी घोषणा की जाएगी."

एएआई ने विश्वस्तरीय सुविधाएं प्रदान करके अगरतला हवाईअड्डे को अंतर्राष्ट्रीय मानकों में अपग्रेड करने के लिए 438 करोड़ रुपये की परियोजना शुरू की थी. मंत्री ने कहा, "438 करोड़ रुपये के बजटीय व्यय में वृद्धि की उम्मीद है. हालांकि, हमारी सरकार लगातार एएआई को कह रही है कि वह कार्य जल्द पूरा करे और निर्धारित मानकों को बनाए रखे." मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने हाल ही में नई दिल्ली में नागरिक उड्डयन मंत्री के साथ अगरतला हवाईअड्डे के उन्नयन के बारे में चर्चा की, जिसे 1942 में तत्कालीन राजा महाराजा बीर बिक्रम किशोर माणिक्य बहादुर ने बनवाया था.