अमित शाह ने पेट्रोल-डीजल की कीमत बढ़ाने पर कर्नाटक सरकार को घेरा
Advertisement

अमित शाह ने पेट्रोल-डीजल की कीमत बढ़ाने पर कर्नाटक सरकार को घेरा

अमित शाह ने कहा आखिर कर्नाटक की जनता राज्य सरकार के भ्रष्टाचार और उसकी अक्षमता के लिए इतनी भारी कीमत क्यों चुकाए?' 

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: कर्नाटक सरकार द्वारा पेट्रोल और डीजल पर कर बढ़ाये जाने के बाद भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को राज्य की कांग्रेस-जेडी (एस) गठबंधन सरकार की नीति की आलोचना की और कहा कि आखिर जनता 'राज्य सरकार के भ्रष्टाचार और अक्षमता' के लिये भारी कीमत क्यों चुकाए? 

अमित शाह ने ट्वीट किया,'कर्नाटक में मौजूदा सरकार के शासनकाल में किसान मर रहे हैं. दलितों को गुलाम बनाया जा रहा है. आम जनता कर के बोझ से दबी जा रही है. आखिर कर्नाटक की जनता राज्य सरकार के भ्रष्टाचार और उसकी अक्षमता के लिए इतनी भारी कीमत क्यों चुकाए?' शाह ने इससे पहले किसानों की आत्महत्या और दलितों को कथित तौर पर गुलाम बनाये जाने के मुद्दे पर राज्य सरकार पर हमला बोला था.

fallback
अमित शाह द्वारा किया गया ट्वीट

कर्नाटक सरकार ने बढ़ाई पेट्रोल, डीजल की दरें
बता दें कांग्रेस-जनता दल (सेक्युलर) के गठबंधन वाली कर्नाटक सरकार ने शुक्रवार को पेट्रोल और डीजल पर कर की दर बढ़ाकर क्रमश: 32 प्रतिशत और 21 प्रतिशत कर दी.

मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक आधिकारिक बयान में इसका कारण बताते हुए कहा गया कि कच्चे तेल की अंतरराष्ट्रीय बाजार में लगातार गिरती कीमतों से राज्य के राजस्व पर विपरीत प्रभाव पड़ रहा है. 

राज्य में पेट्रोल और डीजल पर कर की दर क्रमश: 28.75 और 17.73 प्रतिशत थी जिसे बढ़ाकर 32 और 21 प्रतिशत कर दिया गया है. इस बढ़ोत्तरी के बाद राज्य में अब पेट्रोल की कीमत 70.84 रुपये प्रति लीटर और डीजल की 64.66 रुपये प्रति लीटर हो गई है.

हालांकि, इस बढ़ोत्तरी के बावजूद कर्नाटक में ईंधन की खुदरा कीमत पड़ोसी राज्यों से कम ही हैं. एक जनवरी 2019 को इन ईंधनों के आधार मूल्य को देखते हुये दाम पड़ोसी राज्यों से कम रहे हैं.

(इनपुट - भाषा)

Trending news