जेटली ने आयकर छापों के विरोध में प्रदर्शन करने पर जेडीएस, कांग्रेस की आलोचना की

कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी के नेतृत्व में कांग्रेस - जेडीएस के सत्तारूढ़ गठबंधन ने गुरुवार को बेंगलुरू में आयकर विभाग के सामने प्रदर्शन किया था.

जेटली ने आयकर छापों के विरोध में प्रदर्शन करने पर जेडीएस, कांग्रेस की आलोचना की
वित्त मंत्री अरुण जेटली (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री अरूण जेटली ने पीडब्ल्यूडी ठेकेदारों और इंजीनियरों के यहां तलाशी लिए जाने के विरोध में बेंगलुरू में आयकर कार्यालय के बाहर प्रदर्शन करने को लेकर जेडीएस और कांग्रेस की शनिवार को आलोचना की. 

जेटली ने अपने एक ब्लॉग में कहा है कि बेंगलुरु का मामला यूपीए 2 के कामकाज की पद्धति को दो तरह से प्रदर्शित करता है - सरकारी धन का इस्तेमाल करो, खुद को फायदा पहुंचाने के लिए इसे ठेकोदारों और लाभार्थियों के जरिए इस्तेमाल करो और फिर संघवाद के लिए जुबानी हमदर्दी जताओ और जब कभी अवसर आए तब उसे नष्ट कर दो.... 

गौरतलब है कि कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी के नेतृत्व में कांग्रेस - जेडीएस के सत्तारूढ़ गठबंधन ने गुरुवार को बेंगलुरू में आयकर विभाग के सामने प्रदर्शन किया. उन्होंने अपने पार्टी के लोगों और अन्य के खिलाफ राज्यव्यापी कार्रवाई किए जाने के विरोध में यह कदम उठाया. 

अरुण जेटली ने कहा कि यह अभूतपूर्व है कि किसी राज्य के मुख्यमंत्री आयकर तलाशी के खिलाफ सड़क पर प्रदर्शन में शामिल हुए हों.  उन्होंने कहा कि कांग्रेस और जेडीएस की प्रतिक्रिया से शक की सूई उन पर जाती है. क्या मंत्री के भतीजे पीडब्ल्यूडी ठेकेदार थे जिनके लिए दरियादिली दिखाई गई - क्या यह भाई भतीजावाद का मामला है? 

उन्होंने कहा कि यहां तक कि आयकर अधिकारियों ने एक बयान जारी कर कहा है कि किसी सांसद, विधायक या मंत्री के यहां तलाशी नहीं ली गई है. उन्होंने पूछा कि क्या राज्य का रूख संघवाद के लिए खतरा है.