close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री पर फेसबुक पोस्ट लिखने वाला व्यक्ति दो दिन की पुलिस हिरासत

पुलिस ने पॉल के फेसबुक पोस्ट के 25 अप्रैल को सोशल मीडिया पर वायरल हो जाने के बाद फर्जीवाड़ा, धोखाधड़ी और षड्यंत्र करने के लिए प्राथमिकी दर्ज की थी.

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री पर फेसबुक पोस्ट लिखने वाला व्यक्ति दो दिन की पुलिस हिरासत
मामले में एक पत्रकार और एक पुलिस कॉन्स्टेबल को फेसबुक पोस्ट साझा करने के लिए 28 अप्रैल को गिरफ्तार किया गया था.

अगरतला: मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब के निजी जीवन पर कथित तौर पर “फर्जी खबर” पोस्ट करने के लिए गिरफ्तार किए गए शख्स को दस्तावेजों के साथ छेड़छाड़ करने के आरोप में रविवार को दो दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया. अनुपम पॉल को त्रिपुरा पुलिस की अपराध शाखा ने बुधवार को नई दिल्ली से गिरफ्तार किया था. वह 26 अप्रैल से फरार था. पुलिस ने पॉल के फेसबुक पोस्ट के 25 अप्रैल को सोशल मीडिया पर वायरल हो जाने के बाद फर्जीवाड़ा, धोखाधड़ी और षड्यंत्र करने के लिए प्राथमिकी दर्ज की थी.

उसे मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (सीजेएम) शर्मिष्ठा मुखर्जी की अदालत के समक्ष रविवार को पेश किया गया जहां से उसे दो दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया. सदर के अनुमंडलीय पुलिस अधिकारी ध्रूब नाथ ने यहां संवाददाताओं से कहा कि पॉल को मंगलवार को फिर से अदालत में पेश किया जाएगा. मुख्यमंत्री ने इस पोस्ट को उनकी छवि खराब करने के लिए “एक गहरी साजिश” बताया था. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि एक पत्रकार और एक पुलिस कॉन्स्टेबल को फेसबुक पोस्ट साझा करने के लिए 28 अप्रैल को गिरफ्तार किया गया था. दोनों फिलहाल जमानत पर बाहर हैं.