'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' आने वाले पर्यटकों की सुरक्षा के लिए सरकार ने उठाया है यह कदम!

'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' आने वाले पर्यटकों की सुरक्षा के लिए सरकार ने उठाया है यह कदम!

यहां के दो तालाबों के मगरमच्छों को पर्यटकों की सुरक्षा के मद्देनजर स्थानांतरित किया जा रहा है. 

'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' आने वाले पर्यटकों की सुरक्षा के लिए सरकार ने उठाया है यह कदम!

अहमदाबाद: गुजरात के नर्मदा जिले में स्थित प्रसिद्ध ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ के पास दो तालाबों के मगरमच्छों को यहां आने वाले पर्यटकों की सुरक्षा के मद्देनजर स्थानांतरित किया जा रहा है. अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी. 

उन्होंने हालांकि उन खबरों को खारिज कर दिया कि यह कदम सीप्लेन सेवा शुरू करने के लिए उठाया गया है. एक अधिकारी ने बताया कि मगरमच्छों को पकड़ने के लिए उन दोनों तालाबों के किनारे करीब 20 पिंजरे स्थापित किए गए हैं, जिन्हें आधिकारिक तौर पर डाइक 3 और 4 के नाम से जाना जाता है.

अधिकारी ने बताया कि ये तटबंध सरदार सरोवर बांध से छोड़े गए पानी को स्थिर करने के लिए बनाए गए कृत्रिम जलाशय हैं.

वन संरक्षक (वडोदरा वन्यजीव क्षेत्र) आराधना साहू ने कहा कि अब तक 12 मगरमच्छ पकड़े गए हैं, हालांकि उन्होंने कहा कि इनकी संख्या को लेकर ऐसा कोई विशेष लक्ष्य निर्धारित नहीं किया गया है, जिन्हें पकड़ने की जरूरत है.

साहू ने कहा, ‘‘केवड़िया गांव के पास स्थित स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का क्षेत्र भारी संख्या में पर्यटकों को आकर्षित कर रहा है. चूंकि इन तालाबों में मगरमच्छ हैं, इसलिए पर्यटकों के लिए खतरा है. हमने इनको दूसरी जगह स्थानांतरित करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है.’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘अनुमान है कि उस क्षेत्र में लगभग 300 मगरमच्छ होंगे.’'

Trending news