कश्‍मीर में भारी ठंड, जम गई डल झील, द्रास में तापमान -30.2 डिग्री दर्ज

उतरी कश्मीर सहित कश्मीर घाटी शीत लहर के चपेट में है. कश्मीर और लद्दाख़ क्षेत्र में कोई एसी जगह नहीं रही, जहां तापमान शून्य से ऊपर दर्ज हुआ हो.

कश्‍मीर में भारी ठंड, जम गई डल झील, द्रास में तापमान -30.2 डिग्री दर्ज

नई दिल्‍ली/श्रीनगर : समूचे उत्‍तर भारत (North India) में जहां कड़ाके की ठंड पड़ रही है, वहीं कश्‍मीर (Kashmir) में भीषण ठंड से जीवन बेहाल है. घाटी में ठंड के यह हालात है कि डल झील के बाहरी हिस्‍से जम गए हैं. श्रीनगर में रही बीती रात मौसम की सबसे ठंडी रात रही और तापमान -5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. वहीं द्रास देश की सबसे ठंडी जगह रही, जहां तापमान शून्य से 30.2 डिग्री दर्ज किया गया. 

उतरी कश्मीर सहित कश्मीर घाटी शीत लहर के चपेट में है. कश्मीर और लद्दाख़ क्षेत्र में कोई एसी जगह नहीं रही, जहां तापमान शून्य से ऊपर दर्ज हुआ हो. ठंड का कहर इतना ज्‍यादा बढ़ गया है कि जहां भी ठहरा पानी हैं, वो जम गया हैं. यहां तक की मशहूर झील डल के बाहरी किनारों पर बर्फ़ की दो इंच मोटी बर्फ़ जम गई है. इससे लोगों को काफ़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा हैं.

एक स्‍थानीय नागरिक ने कहा कि ''ठंड बहुत ज्‍यादा है. यहां चिल्‍ले-कलां का मौसम हैं, जिसे ठंड के 40 दिन भी कहा जाता है. इस दौरान बहुत मुश्किल हो रही है.'' 

अगर तापमान की बात करें तो हर जगह लोग ठिठुरती ठंड को झेल रहे हैं. श्रीनगर में तापमान -5 रहा तो गुलमर्ग -11.7, पहलगाम -12.7, लेह -18.0 पर जमा तो द्रास में रिकॉर्ड तोड़ ठंड रही. यहां तापमान -30.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ.

वहीं, अगर राजमार्गों की बात करें तो श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर 24 घंटों के बाद मुश्किल से एकतरफ़ा यातायात के लिए खोला गया. मगर श्रीनगर-लेह और मुग़ल रोड आज भी बंद रहा.

ठंड से बचने के लिए लोगों को पारंपरिक तरीक़ों का इस्तेमाल करना पड़ रहा हैं, क्‍योंकि पूरी घाटी में बिजली की काफ़ी कटौती हो रही है. मौसम विभाग के मुताबिक़, अगले एक सप्ताह तक मौसम ख़ुशनुमा रहेगा और सूखी ठंड जारी रहेगी, जिससे तापमान और गिरेगा और कश्मीर सहित पूरे उतर भारत में शीत लहर का प्रकोप बना रहेगा.

ये वीडियो भी देखें: