close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

महाराष्ट्रः प्रकाश आंबेडकर ने कांग्रेस को ऑफर की 144 सीटें, बोले - '31 अगस्त तक बता दें अपना फैसला'

वंचित बहुजन अघाड़ी के प्रमुख प्रकाश आंबेडकर ने आज मुंबई में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि उन्होंने विधानसभा चुनाव में गठबंधन के लिए कांग्रेस को 144 सीटें ऑफर की हैं.

महाराष्ट्रः प्रकाश आंबेडकर ने कांग्रेस को ऑफर की 144 सीटें, बोले - '31 अगस्त तक बता दें अपना फैसला'
कांग्रेस के पास विधानसभा चुनाव के लिए 80 सीटों से ज्यादा के लिए उम्मीदवार नहीं हैं. प्रकाश आंबेडकर (फाइल फोटो)

मुंबईः वंचित बहुजन अघाड़ी के प्रमुख प्रकाश आंबेडकर ने आज मुंबई में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि उन्होंने विधानसभा चुनाव में गठबंधन के लिए कांग्रेस को 144 सीटें ऑफर की हैं. इस पर विचार करने के लिए कांग्रेस पार्टी को 31 अगस्त तक का अल्टीमेटम दे रहें हैं. अगर इस दौरान तक कांग्रेस की तरफ से कोई जवाब नहीं मिला तो उसके बाद हम हमारी भूमिका स्पष्ट कर देंगे. वहीं एमआईएम के साथ गठबंधन पर प्रकाश आंबेडकर ने कहा कि, एमआईएम के साथ जो गठबंधन है वह विधानसभा चुनाव में भी जारी रहेगा. 

पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि, कांग्रेस को अगर यह प्रस्ताव स्वीकार करना है तो वह 31 अगस्त तक हमें अपने फैसले के बारे में बता दे. कांग्रेस के पास विधानसभा चुनाव के लिए 80 सीटों से ज्यादा के लिए उम्मीदवार नहीं हैं. इनमें 40 वर्तमान विधायक हैं, फिर भी हम कांग्रेस को 144 सीटें देने के लिए तैयार हैं.

देखें लाइव टीवी

लोकसभा चुनाव 2019: अकोला में प्रकाश अंबेडकर भेद पाएंगे BJP का किला! त्रिकोणीय है मुकाबला

वहीं ED जांच के बारे में प्रकाश आंबेडकर का कहना है कि, यह सरकार की विपक्षी पार्टियों को खत्म करने की कोशिश है. जो जांच चल रही है उससे राजनीति साफ झलक रही है. मैं मतदाताओं से आह्वान करता हुं कि वह विपक्ष को जिंदा रखे. विपक्षी पार्टियों के नेताओं को डराया जा रहा है. उद्धव ठाकरे को भी चुप कर दिया गया है. जिससे भाजपा सरकार के इरादे स्पष्ट हो रहे हैं.

महाराष्‍ट्र: अब विधानसभा चुनाव में भी कांग्रेस-NCP की टेंशन बढ़ाएंगे औवेसी, BJP को फायदा

आरक्षण मामले पर प्रकाश आंबेडकर ने कहा है कि ओबीसी समाज को पदोन्नती में आरक्षण मिलना चाहिए, यह हमारी मांग है. एससी और एसटी के छात्रों की स्कॉलरशिप दोगुनी की जाए. राज्य के कर्मचारीयों में भी पार्टी पॉलिटिक्स चल रही है. जितने भी ए वर्ग के अफसर हैं सभी बीजेपी और आरएसएस के साथ हो गए हैं.