Breaking News
  • जम्मू-कश्मीर के पुलवामा के त्राल में 3 आतंकवादी मारे गए, सेना का सर्च ऑपरेशन जारी

पश्चिम बंगाल कोई खिलौना नहीं है, इसके साथ मनमानी नहीं करने देंगे : ममता बनर्जी

पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि बीजेपी के लोग पश्चिम बंगाल को गुजरात बनाना चाहते हैं, लेकिन हम इसे गुजरात नहीं बनने देंगे.

पश्चिम बंगाल कोई खिलौना नहीं है, इसके साथ मनमानी नहीं करने देंगे : ममता बनर्जी
ममता बनर्जी ने बीजेपी पर साधा निशाना. फाइल फोटो

नई दिल्‍ली: पश्चिम बंगाल में सत्‍तारूढ़ टीएमसी और बीजेपी के कार्यकर्ताओं के बीच लगातार तनाव बना हुआ है. इसी बीच प्रदेश की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने बीजेपी पर मंगलवार का फिर निशाना साधा है. कोलकाता के हरे स्‍कूल में ईश्‍वर चंद्र विद्यासागर की श्रद्धांजलि देने पहुंची सीएम ममता ने कहा कि पश्चिम बंगाल कोई खिलौना नहीं है. हम इसके साथ मनमानी नहीं करने देंगे. उन्‍होंने चुनाव के दौरान तोड़ी गई ईश्‍वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति के संबंध में बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि यह मूर्ति बीजेपी ने तोड़ी है. उन्होंने कहा कि वे पश्चिम बंगाल को गुजरात बनाना चाहते हैं, लेकिन हम इसे गुजरात नहीं बनने देंगे.


ममता बनर्जी ने कोलकाता के हरे स्‍कूल में ईश्‍वरचंद्र विद्यासागर का श्रद्धांजलि दी. फोटो ANI

कोलकाता के हरे स्‍कूल के ग्राउंड में मंगलवार को बीजेपी पर हमला बोलते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि आप लोगों ने ईश्‍वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति तोड़ी आप लोगों ने राजा राम मोहन रॉय के बारे में गलत कहा. यह हमारे समाज, परंपरा और बंगाली संस्‍कृति पर हमला है. यह बंगाली संस्‍कृति और परंपरा को खत्‍म करने का प्रयास है.

ममता बनर्जी ने कहा कि हम चार शख्सियतों की कांस्‍य की मूर्तियां लगाने जा रहे हैं. हम ईश्‍वरचंद्र विद्यासागर, रबींद्रनाथ टैगोर, आशुतोष मुखर्जी और काजी नजरूल इस्‍लाम की कांस्‍य की मूर्तियां विद्यासागर कॉलेज की सड़क पर बनाने जा रहे हैं. उन्‍होंने कहा कि हाल ही में मेरे घर में कलाकार आए. उन्‍होंने मुझसे पूछा कि क्‍या बंगाल में सब लोग पाइप गन लेकर घूमते हैं? अब देखिए बंगाल की पूरे देश में इस तरह की छवि बनाई जा रही है.

ममता बनर्जी ने हरे स्‍कूल से विद्यासागर कॉलेज तक पैदल यात्रा की. इसके बाद उन्‍होंने यहां ईश्‍वरचंद्र विद्यासागर की नई मूर्ति का अनावरण किया. बता दें कि 14 मई को टीएमसी और बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच झड़प में ईश्‍वर चंद्र विद्यासागर की मुर्ति टूट गई थी. इसके बाद टीएमसी और बीजेपी एक-दूसरे पर इसे तोड़ने का आरोप लगा रहे हैं. दोनों पार्टियों के कार्यकर्ताओं के बीच लगातार तनाव और झड़पें जारी हैं.