close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'अवार्ड वापसी' मुहिम में शामिल नयनतारा सहगल से मराठी साहित्य सभा ने आमंत्रण वापस लिया

आयोजकों ने रविवार को बताया कि एक राजनीतिक संगठन की ओर से कार्यक्रम बाधित करने की धमकी के बाद यह फैसला लिया गया.

'अवार्ड वापसी' मुहिम में शामिल नयनतारा सहगल से मराठी साहित्य सभा ने आमंत्रण वापस लिया
फाइल फोटो

यवतमाल: अखिल भारतीय मराठी साहित्य सभा के आयोजकों ने कार्यक्रम के लिए उद्घाटन अवसर में शामिल होने के लिए अंग्रेजी भाषा की जानीमानी लेखिका नयनतारा सहगल को भेजा गया आमंत्रण वापस ले लिया है. ''कुछ लोगों'' की तरफ से कार्यक्रम के आयोजन में बाधा उत्पन्न करने की धमकी दिए जाने के बाद सहगल को भेजा गया आमंत्रण वापस लिया गया. गौरतलब है कि सहगल 'अवॉर्ड वापसी' मुहिम की अगुवाई करने वालों में शामिल रही हैं.

आयोजकों ने रविवार को बताया कि एक राजनीतिक संगठन की ओर से कार्यक्रम बाधित करने की धमकी के बाद यह फैसला इसलिए लिया गया ताकि कोई अप्रिय घटना न हो और विवाद पैदा न हो. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शासनकाल में ''देश में बढ़ रही असहनशीलता'' के खिलाफ 2015 में चलाई गई 'अवॉर्ड वापसी' मुहिम की अगुवाई करने वालों में सहगल (91) भी शामिल रही हैं. 

सहगल नेहरू-गांधी परिवार की सदस्य हैं. वह देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की भतीजी हैं. उन्हें महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की मौजूदगी में 11 जनवरी को 92वें साहित्य सभा का उद्घाटन करना था. जानीमानी मराठी लेखिका अरुणा ढेरे इस कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगी.

(इनपुट भाषा से)