पीएम मोदी रविवार को गुंटुर में करेंगे रैली, मुख्यमंत्री ने कार्यकर्ताओं से कहा, 'विरोध करो'

चंद्रबाबू नायडू ने टीडीपी कार्यकर्ताओं से कहा कि राज्य के साथ केंद्र के 'विश्वासघात' के खिलाफ विरोध प्रदर्शन इस पैमाने पर किया जाना चाहिए कि पूरे देश का ध्यान इस ओर आकर्षित हो.

पीएम मोदी रविवार को गुंटुर में करेंगे रैली, मुख्यमंत्री ने कार्यकर्ताओं से कहा, 'विरोध करो'
(फाइल फोटो)

अमरावती/तिरुपति: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुंटुर में रविवार को एक रैली को संबोधित करेंगे. सत्ताधारी टीडीपी द्वारा बीजेपी के साथ गठबंधन तोड़ने के बाद प्रधानमंत्री की राज्य की यह पहली यात्रा है. मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने अपने पार्टी कार्यकर्ताओं से रविवार को पूरे राज्य में विरोध प्रदर्शन करने को कहा है. 

बीजेपी की एक सभा को संबोधित करने के अलावा प्रधानमंत्री मोदी पेट्रोलियम एवं गैस से जुड़ी 6,825 करोड़ रुपये की दो परियोजनाओं को राष्ट्र को समर्पित करेंगे. बीजेपी सांसद जी वी एल नरसिम्हा राव ने बताया कि प्रधानमंत्री रिमोट कंट्रोल के जरिए नेल्लोर जिले में भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड के एक तटीय टर्मिनल की आधारशिला भी रखेंगे. 

'प्रदर्शन इस पैमाने पर होग की पूरे दश का ध्यान आकर्षित हो'
नायडू ने टेलीकॉन्फ्रेंस कॉल के दौरान कार्यकर्ताओं और पार्टी सदस्यों से कहा कि राज्य के साथ केंद्र के 'विश्वासघात' के खिलाफ विरोध प्रदर्शन इस पैमाने पर किया जाना चाहिए कि पूरे देश का ध्यान इस ओर आकर्षित हो. 

पीएम मोदी गुंटूर में एक रैली को संबोधित करने वाले हैं. टीडीपी द्वारा पिछले साल भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के साथ संबंध तोड़ने के बाद यह आंध्र प्रदेश की उनकी पहली यात्रा होगी.

सोमवार को दिल्ली में प्रदर्शन करेंगे नायडू 
टीडीपी प्रमुख सोमवार को नई दिल्ली में दिन भर का विरोध प्रदर्शन आयोजित करेंगे. उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी द्वारा दिखाए गए तरीके से विरोध-प्रदर्शन आयोजित किए जाने चाहिए.

नायडू ने आरोप लगाया कि मोदी 2014 में राज्य के विभाजन के बाद की बर्बादी देखने के लिए राज्य आ रहे हैं. इससे पहले नायडू ने पीएम मोदी के दौरे पर तीखी टिप्पणी करते हुए कहा था,'क्या वह यहां यह देखने आ रहे हैं कि लोग अभी भी जीवित हैं या नहीं?' नायडू ने कहा कि राज्य सरकार को अस्थिर करने के लिए साजिश रची गई. 

(इनपुट - भाषा/IANS)