close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सूरत में बोले PM मोदी, सरकार का लक्ष्य है, हवाई चप्पल पहनने वाला भी करे हवाई यात्रा

पीएम मोदी ने कहा कि दांडी मार्च से भी पहले सूरत में नमक के कानून का विराध किया. उन्होंने कहा कि गांधी जी के दर्शन को सूरत ने जमीन पर उतारा है.

सूरत में बोले PM मोदी, सरकार का लक्ष्य है, हवाई चप्पल पहनने वाला भी करे हवाई यात्रा
फोटो सौजन्य: ANI

सूरतः प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी बुधवार को सूरत और डांडी का दौरे पर हैं. पीएम मोदी ने सूरत हवाईअड्डे पर टर्मिनल भवन के विस्‍तार परियोजना और एक अस्पताल की आधाशिला रखी. इसके बाद न्‍यू  इंडिया यूथ कॉन्‍क्‍लेव में युवाओं के साथ बातचीत करते हुए पीएम मोदी ने कहा, 'आज बापू की पुण्यतिथि है, कर्मयोगियों के इस शहर सूरत से मैं बापू को श्रद्दा सुमन अर्पित करता हूं.' पीएम मोदी ने कहा कि दांडी मार्च से भी पहले सूरत में नमक के कानून का विराध किया. उन्होंने कहा कि गांधी जी के दर्शन को सूरत ने जमीन पर उतारा है. ये शहर मेक इन इंडिया को सशक्त कर रहा है.

आने वाला समय सूरत का ही हैः पीएम मोदी
पीएम ने कहा, 'आज सूरत एयरपोर्ट का विस्तारीकरण तो हुआ ही है, इसके साथ ही दर्जनो प्रोजेक्ट का शिलान्यास भी किया गया है. हाल ही में आई एक अंतराष्ट्रीय रिपोर्ट के मुताबिक आने  वाले 10 -15 वर्षों में दुनिया के सबसे तेज विकसित होने वाले टाप 10 शहरों में सारे सारे हिदुस्तान के है. इसमें भी सबसे टॉप पर सूरत है, आने वाला समय सूरत का है.'

सूरत से सीधी फ्लाइट शारजाह जाएगीः पीएम मोदी
पीएम ने अपने संबोधन में कहा, 'ये हमारा दायित्व है कि इन शहरो को वर्तमान के साथ साथ भविष्य के लिये भी तैयार किया जाएं. सूरत का ये एअरपोर्ट, गुजरात का तीसरा बड़ा और व्यस्त एअरपोर्ट हो गया है. काम पूरा हो जाने के बाद ये एयरपोर्ट 1800 लोगों को हैंडल कर पायेगा. पैसेंजर के अलावा हम यहां की कार्गो क्षमता भी बढाने वाले है. कुछ ही दिनों में यहां से एअरइंडिया की फ्लाइट सीधे शारजाह जायेगी.' 

सरकार का लक्ष्य है, हवाई चप्पल पहनने वाला भी हवाई यात्रा करेः पीएम मोदी
पीएम मोदी ने कहा, '17 एअरपोर्ट को एक्सपैंड (विस्तारीकरण) किया जा चुका है. सरकार का प्रयास है कि 50 ऐसे एयरपोर्ट को विकसित किया जाए जो सेवा में नहीं है या उपयोग में बहुत कम है. उन्होंने कहा कि सरकार का लक्ष्य है कि हवाई चप्पल पहनने वाला भी हवाई यात्रा करें.'

पिछली सरकारों को इतना काम करने में 25 साल लग जातेः पीएम
हमने अपने कार्यकाल में चार साल के दौरान 1.30 करोड़ मकान बनवाए, जबकि यूपीए सरकार ने अपने शासनकाल में 25 लाख मकानों का निर्माण कराया था. उन्होंने कहा कि मैंने अब तक जितना काम किया है, पूर्ववर्ती सरकार को उतना काम करने के लिए और 25 वर्षों की आवश्यकता पड़ती. 

अपनी यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री सूरत हवाईअड्डे पर टर्मिनल भवन के विस्‍तार की आधारशिला रखी. यहां 25,500 वर्ग मीटर से भी बड़े क्षेत्र में 354 करोड़ रुपये की लागत से टर्मिनल भवन का निर्माण किया जा रहा है. सौर ऊर्जा और एलईडी प्रकाश व्‍यवस्‍था के इस्‍तेमाल से यह एक पर्यावरण अनुकूल भवन होगा. इसका काम पूरा होने पर, 1800 से अधिक यात्रियों की आवाजाही की क्षमता हो जाएगी.

विमानों की आवाजाही और यात्रियों की संख्‍या दोनों ही रूपों में सूरत हवाईअड्डा वडोदरा एवं अहमदाबाद के बाद गुजरात का तीसरा सबसे अधिक व्‍यस्‍त हवाईअड्डा है.

गौरतलब है कि गुजरात में नागर विमानन के लिए आधारभूत सुविधाओं को मजबूत करने के साथ-साथ विमान सेवा का भी विस्‍तार किया गया है . उड़ान योजना के माध्‍यम से कांडला को मुम्‍बई से और पोरबंदर को अहमदाबाद और मुम्‍बई से जोड़ना इनमें शामिल हैं. 

सूरत के बाद दांड़ी जाएंगे पीएम मोदी 
प्रधानमंत्री का अगला गंतव्‍य गुजरात के नवसारी जिले में डांडी होगा. मोदी यहां बापू की पुण्‍यतिथि पर राष्‍ट्रीय नमक सत्‍याग्रह स्‍मारक राष्‍ट्र को समर्पि‍त करेंगे. इस स्‍मारक में महात्‍मा गांधी और ऐतिहासिक डांडी नमक यात्रा के दौरान उनके साथ शामिल 80 सत्‍याग्रहियों की मूर्तियां हैं.स्‍मारक में ऐतिहासिक 1930 की नमक यात्रा की विभिन्‍न घटनाओं और कहानियों को चित्रित करने वाले 24 भित्तिचित्र भी हैं. प्रधानमंत्री स्‍मारक को देखेंगे और एक जनसभा को संबोधित करेंगे.

नमक सत्‍याग्रह यात्रा को 1930 की डांडी यात्रा के नाम से अच्‍छी तरह जाना जाता है. भारत के स्‍वाधीनता आंदोलन के इतिहास में यह एक महत्‍वपूर्ण घटना है.यह प्रधानमंत्री का इस माह गुजरात का दूसरा दौरा होगा. प्रधानमंत्री मोदी ने इससे पहले 19 जनवरी, 2019 को सूरत का दौरा किया था, जब उन्‍होंने हजीरा में आर्मर्ड सिस्‍टम कॉप्‍लेक्‍स का लोकार्पण किया था. उन्‍होंने गुजरात के गांधीनगर में 17 और 18 जनवरी, 2019 को वाइब्रेंट गुजरात सम्‍मेलन में हिस्‍सा लिया था.

(इनपुट भाषा से)