जैसे ही भारत के सेना प्रमुख ने LoC का लिया नाम, पाकिस्तान में मच गई हड़बड़ी

भारतीय सेना प्रमुख के LoC को लेकर दिए बयान के बाद पाकिस्तानी सरकार और सेना दोनों में खलबली मच गई है. 

जैसे ही भारत के सेना प्रमुख ने LoC का लिया नाम, पाकिस्तान में मच गई हड़बड़ी
भारतीय सेना प्रमुख के बयान के बाद यह अनुमान लगाया जा रहा है कि कि पाकिस्तान किसी हरकत को अंजाम दे सकता है. .फाइल फोटो

नई दिल्ली: जम्मू कश्मीर में सीमा पार से सीजफायर उल्लंघन के मामले बढ़ने के बाद भारतीय सेना के प्रमुख जनरल बिपिन रावत (Bipin Rawat) ने LoC को लेकर एक बयान जारी किया था. सेना प्रमुख के बयान के बाद पाकिस्तानी सरकार और सेना दोनों में खलबली मच गई है.  भारतीय सेना के प्रमुख जनरल बिपिन रावत (Bipin Rawat) ने कहा था कि, एलओसी पर कभी भी हालात बिगड़ सकते हैं. LoC पर हर हालात के लिए तैयार रहना होगा. इसके बाद पाकिस्तान की तरफ से अलग-अलग बातें सामने आने लगी. हद तो तब हो गई जब बौखलाए पाकिस्तान के सैन्य प्रमुख कमर जावेद बाजवा भारत को धमकी देने लगे. उन्होंने कहा, "हम अपनी मातृभूमि की रक्षा के लिए किसी भी दुस्साहस या आक्रमण का जवाब देने के लिए पूरी तरह से तैयार और सक्षम हैं." तनाव बढ़ने के मद्देनजर पाकिस्तानी सैन्य प्रमुख ने एलओसी का दौरा भी करने चले.

बाजवा ने नियंत्रण रेखा (एलओसी) के दौरे के दौरान कहा है कि, "शांति के लिए हमारी कोशिश को कमजोरी समझने की भूल न की जाए. कश्मीर पर किसी भी हाल में, किसी भी कीमत पर कोई समझौता नहीं होगा." इससे पहले पाकिस्तान (Pakistan) के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (Shah Mehmood Qureshi) ने सोमवार को आरोप लगाया था कि नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर भारत द्वारा संघर्षविराम की घटनाएं बढ़ी हैं और एलओसी पर भारतीय सेना की 'अस्वाभाविक गतिविधियां' शांति के लिए खतरा बन सकती हैं.

यह भी देखें:

कुरैशी यही तक नहीं रुके और भारत को परमाणु बम की धमकी देते हुए कहा कि 'जब दो एटमी ताकतें आमने-सामने हों तो बात एक क्षेत्र तक ही नहीं रह जाएगी. बात दूर तक जाएगी और इसका असर वैश्विक स्तर पर होगा." आपको बता दें कि भारतीय सेना के प्रमुख जनरल बिपिन रावत का बयान पाकिस्तान की तरफ से जम्मू कश्मीर में सीमा पार से सीजफायर उल्लंघन के बढ़ते मामले के बाद आया था.  भारतीय सेना प्रमुख के बयान के बाद यह अनुमान लगाया जा रहा है कि कि पाकिस्तान किसी हरकत को अंजाम दे सकता है.