दशहरे के बाद यूपी यात्रा पर निकलेंगे उद्धव ठाकरे, क्या है राजनीतिक मकसद

शिवसेना ने अयोध्या में राम मंदिर के मुद्दे का हमेशा से समर्थन किया है. चार साल से सत्ता में रहने के बावजूद भाजपा ने वहां भव्य राम मंदिर बनाने के अपने वादे को अभी तक पूरा नहीं किया.

दशहरे के बाद यूपी यात्रा पर निकलेंगे उद्धव ठाकरे, क्या है राजनीतिक मकसद
Play

मुंबई: शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे दशहरा के बाद उत्तर प्रदेश में अयोध्या जाएंगे. पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय राउत ने गुरुवार को यह जानकारी दी. उन्होंने राम मंदिर मुद्दे को लेकर सहयोगी दल भाजपा की आलोचना की. राज्यसभा सदस्य ने भाषा को बताया कि ठाकरे 19 अक्टूबर को मुंबई में होने वाली पार्टी की वार्षिक दशहरा रैली में अपनी यात्रा की तारीख की घोषणा करेंगे.

उन्होंने कहा, ‘‘ शिवसेना ने अयोध्या में राम मंदिर के मुद्दे का हमेशा से समर्थन किया है. चार साल से सत्ता में रहने के बावजूद भाजपा ने वहां भव्य राम मंदिर बनाने के अपने वादे को अभी तक पूरा नहीं किया.’’ पार्टी सूत्रों ने बताया कि ठाकरे ने बुधवार शाम को यहां पार्टी के मुख्यालय सेना भवन में राम जन्मभूमि न्यास के प्रमुख जनमेजय शरणजी महाराज से मुलाकात की. शरणजी महाराज ने ठाकरे को अयोध्या आने का न्योता दिया और उन्हें बताया कि न्यास को राम मंदिर के निर्माण में शिवसेना की मदद की जरूरत है.

शिवसेना के वरिष्ठ नेता अरविंद सावंत ने कहा कि सत्तारूढ़ राजग ने 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले लोगों से तीन वादे किए थे : संविधान का अनुच्छेद 370 निरस्त करना, अयोध्या में राम मंदिर निर्माण और कश्मीर मुद्दा हल करना.

सावंत ने कहा, ‘‘हम ऐसा कुछ नहीं कर रहे जो हमने पहले नहीं कहा था. जब किसी ने भी बाबरी मस्जिद विध्वंस की जिम्मेदारी नहीं ली तो शिवसेना संस्थापक बालासाहेब ने ली. अब राजग को सत्ता में आए साढ़े चार साल हो गए हैं लेकिन अब भी राम मंदिर का निर्माण शुरू नहीं हुआ और यह मामला अदालत में लंबित है.’’ 

मुंबई दक्षिण निर्वाचन क्षेत्र से लोकसभा सदस्य ने कहा, ‘‘शिवसेना इस मुद्दे के साथ खड़ी रहेगी.’’ 

(इनपुट भाषा)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.