close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रामगोपाल यादव का विवादित बयान, 'पुलवामा हमला वोट पाने के लिए की गई एक साजिश है'

यादव ने अपने बयान में कहा कि अगर केंद्र में सरकार बदली तो हमले के प्रकरण की जांच होगी और बड़े-बड़े लोगों के नाम सामने आएंगे. 

रामगोपाल यादव का विवादित बयान, 'पुलवामा हमला वोट पाने के लिए की गई एक साजिश है'
यादव ने कहा कि अगर केंद्र में सरकार बदली तो हमले के प्रकरण की जांच होगी और बड़े-बड़े लोगों के नाम सामने आएंगे.

फिरोजाबाद: समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता रामगोपाल यादव ने गुरुवार को पुलवामा आतंकी हमले को लेकर विवादित बयान दिया. उन्होंने 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले को साजिश करार दिया ताकि वोट पाए जा सके. वहीं, सीएम योगी ने यादव के बयान पर पलटवार किया है. 

यादव ने अपने बयान में कहा कि अगर केंद्र में सरकार बदली तो हमले के प्रकरण की जांच होगी और बड़े-बड़े लोगों के नाम सामने आएंगे. होली मिलन समारोह के अवसर पर यादव ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, "अर्ध सैन्य बल सरकार से नाराज हैं. वोट के लिए जवान मार दिए गए. जम्मू और श्रीनगर के बीच हाईवे पर कोई चेकिंग नहीं थी. उन्हें (सीआरपीएफ के जवानों को) साधारण बस से भेजा गया. यह सब षड़यंत्र का हिस्सा था. मैं अभी इस पर और बात नहीं करना चाहूंगा लेकिन सरकार बदल गई तो इस पर जांच होगी और बड़े-बड़े लोगों के नाम सामने आएंगे." 

योगी आदित्यनाथ ने किया पलटवार
उधर, सपा नेता रामगोपाल यादव के बयान पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा, "रामगोपाल यादव का बयान घटिया राजनीति का बड़ा उदाहरण है. उन्हें सीआरपीएफ जवानों की शहादत पर प्रश्न खड़ा करने और देश के जवानों का मनोबल तोड़ने वाले इस बयान के लिए जनता से माफी मांगनी चाहिए." 

 

गौरतलब है कि 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी ने सीआरपीएफ के काफिले पर फिदायीन हमला कर दिया था. हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे. हमले के ठीक 13वें दिन भारतीय वायुसेना ने पाकस्तान के बालाकोट में एयर स्ट्राक की थी और जैश के ठिकानों को तबाह कर दिया था.