वीके सिंह बोले 'पुलवामा के गुनहगारों को सजा मिलेगी, उचित जगह और उचित समय हम चुनेंगे'

'विपक्ष को शांति के साथ सैनिकों और केंद्र का साथ देना चाहिए न कि हल्की बातें और छींटाकशी करना चाहिए.'

वीके सिंह बोले 'पुलवामा के गुनहगारों को सजा मिलेगी, उचित जगह और उचित समय हम चुनेंगे'
फाइल फोटो

मोहित पी शर्मा, शिमलाः पुलवामा आतंकी हमले पर केंद्रीय मंत्री जनरल (रि.) वीके सिंह ने कहा है कि आतंकवाद के खिलाफ अब जो भी रणनीति बनाई जाएगी वो प्रभावी होगी. पूर्व सेना प्रमुख ने कहा है कि पुलवामा हमले के गुनहगारों को सजा मिलेगी,आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए हम उचित जगह और उचित समय चुनेंगे. जनरल वीके सिंह ने ज़ी मीडिया के साथ एक्सलूसिव बातचीत में कहा कि इस घटना के बाद विपक्ष कोशिश में है, वह गलतियां निकालने के लगा हुआ है. उन्होंने कहा कि विपक्ष को शांति के साथ सैनिकों और केंद्र का साथ देना चाहिए न कि हल्की बातें और छींटाकशी करना चाहिए.

वीके सिंह ने कहा कि देश मे बहुत से लोग ऐसे हैं जो हमारी आज़ादी का दुरुपयोग करते हैं और निजी और राजनीतिक फायदे के लिए देश को बांटना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि दुनिया के किसी भी देश मे कोई भी अपने देश को गाली नही देता लेकिन भारत मे कई तत्व अपने देश को गाली देते हों और वक्त अब आ चुकी है ऐसे लोगो पर नकेल कसने का दिए है.

इससे पहले पुलवामा आतंकी हमले के बाद  15 फरवरी को उन्होंने कहा था कि गुस्सा सबके अंदर है, मेरे अंदर भी है. लेकिन गुस्से में हर चीज को हड़बड़ाहट में नहीं की जाती है. मुझे देश के नेतृत्व पर भरोसा है कि सही समय पर सही जगह पर जवाब दिया जाएगा. 

पुलवामा के निकट अवंतीपुरा में गुरुवार को हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गये. 

पुलिस ने आत्मघाती हमले की योजना से जुड़े होने के संदेह में इन युवकों को पुलवामा और अवंतीपुरा से हिरासत में लिया. अपनी तरह के इस पहले आतंकी हमले में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी ने विस्फोटक से लदे वाहन को सीआरपीएफ की बस से टकरा दिया था. 

संघीय जांच एजेंसी (एनआईए) की टीम ने विस्फोटक और फोरेंसिक विशेषज्ञों के साथ मिलकर क्राइम सीन (अपराध के दृश्य) के फोरेंसिक मूल्यांकन के लिए आवश्यक सामग्री एकत्र की. टीम, अपराध के दृश्य की स्थिति को ध्यान में रखते हुए शनिवार को भी सामग्री जुटाने का काम करेगी. विश्लेषण समाप्त होने के बाद ही परिणाम का पता चल पाएगा. 

ऐसा माना जाता है कि इस पूरे हमले की योजना एक पाकिस्तानी नागरिक कामरान ने बनाई थी जो जैश ए मोहम्मद का सदस्य था. कामरान, दक्षिण कश्मीर के पुलवामा, अवंतीपुरा तथा त्राल इलाके में सक्रिय था.

फिदायीन(आत्मघाती हमलावर) की पहचान आदिल अहमद के रूप में की गयी है. वह पुलवामा के काकापुरा इलाके का निवासी आदिल 2018 में जैश में शामिल हुआ था. प्रारंभिक जांच के अनुसार दक्षिण कश्मीर के त्राल इलाके के मिदूरा में आतंकी हमले की योजना बनायी गयी. पुलिस, जैश के एक अन्य स्थानीय सक्रिय सदस्य की तलाश कर रही है जो विस्फोटकों की व्यवस्था में मददगार बना