close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

Zee News की खबर का असर, नकली ISI मार्क हेलमेट बना रही कंपनियों का भंडाफोड़

देश की राजधानी दिल्ली में नकली, फर्जी नामों और फर्जी लाइसेंस पर बनाए और बेचे जाने वाले रोड छाप हेलमेट के खिलाफ Zee News ने अपने flagship शो DNA में स्टिंग आपरेशन और रिपोर्टिंग के जरिए खुलासा किया था. 

Zee News की खबर का असर, नकली ISI मार्क हेलमेट बना रही कंपनियों का भंडाफोड़

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली में नकली, फर्जी नामों और फर्जी लाइसेंस पर बनाए और बेचे जाने वाले रोड छाप हेलमेट के खिलाफ Zee News ने अपने flagship शो DNA में स्टिंग आपरेशन और रिपोर्टिंग के जरिए खुलासा किया था और ये दिखाया था कि कैसे लोगों की जान 40 रूपये में बिकने वाले नकली रोड छाप हेलमेट से भी सस्ती हो चुकी है. हमने दिल्ली की गलियों में बसे छोटे छोटे घरों में चल रहे हेलमेट बनाने वाली फर्जी और नकली कंपनियों का भंडाफोड किया था और दिखाया था कि कैसे नकली, फर्जी लाइसेंस को आधार बनाकर कुछ लोग इन घरों में हेलमेट की MANUFACTURING UNITS लगाए हुए हैं,

और वहां से बना नकली हेलमेट पूरी दिल्ली के कई बाजारों और खास तौर पर फुटपाथ पर बने हेलमेट की जुगाड़ वाली दुकानों में बडी मात्रा मे सप्लाई कर रहे हैं. जी न्यूज की इस बड़ी मुहिम का लगातार असर होता दिख रहा है. इस रिपोर्ट को देखने के बाद सरकार के विभाग हरकत में आ गए और दिल्ली के अलग अलग इलाकों में ऐसी फर्जी कंपनियों को पकड़ने के लिए छापेमारी की जाने लगी.

उन इलाकों में भी छापेमारी हुई जहां से जी न्यूज ने इस पूरे मसले को लेकर रिपोर्टिंग और स्टिंग आपरेशन किया था. आज इसी कड़ी में फिर BIS यानि  Bureau of Indian Standards (BIS), Delhi शाखा नें दिल्ली के मुबारिकपुर इलाके में  M/s Arpan Enterprises Mubarikpur Ext., Pravesh Nagar Dabas पते पर छापेमारी की, ये फर्म बिना किसी वैलिड BIS लाइसेंस के नकली हेलमेट बना कर सप्लाई कर रहा था,

ये कंपनी "विजन हेलमेट "नाम के फर्जी लाइसेंस के आधार पर हेलमेट बना रही थी, छापेमारी में बडी तादाद में नकली हेलमेट बनाने वाला RAW MATERIAL और फर्जी BIS CERTIFICATION मार्क वाला सामान भी बरामद किया गया..