close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बीजेपी ने हर‍ियाणा में पिछली बार गंवाई थीं जो 3 सीटें, उन्‍हें जीतने के लिए बनाई रणनीत‍ि

पि‍छले चुनाव में बीजेपी ने रोहतक, सिरसा और हिसार लोकसभा सीट गंवा दी थीं. केएचएयू परिसर में सोमवार को BJP की हिसार और सिरसा लोकसभा की कलस्टर मीटिंग हुई.

बीजेपी ने हर‍ियाणा में पिछली बार गंवाई थीं जो 3 सीटें, उन्‍हें जीतने के लिए बनाई रणनीत‍ि

हिसार: लोकसभा चुनावी रण का बीजेपी हरियाणा में बिगुल फूंकने जा रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जहां कल कुरुक्षेत्र में पहुंच रहे हैं. तो वहीं बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी 25 फरवरी को हिसार आ रहे हैं. दोनों नेताओं के दौरे को लोकसभा के साथ जोड़कर देखा जा रहा है. माना जा रहा है कि लोकसभा चुनाव की बीजेपी ने 'बिसात' बिछानी शुरू कर दी है.

हिसार में बीजेपी नेताओं की 3 जिलों की कलस्टर की मीटिंग हुई, जिसमें पार्टी पदाधिकारियों और शीर्ष नेताओं ने ना सिर्फ अमित शाह के दौरे को लेकर मंथन किया, साथ ही बूथ जीतो, चुनाव जीतो का पार्टी पदाधिकारियों को मंत्र भी दिया है. 2014 के आम चुनाव में 10 में से 7 सीटें जीतने वाली बीजेपी इस बार 2019 में होने वाले आम चुनाव को लेकर 10 की 10 सीटों पर निगाह टिकाए हुए है. रोहतक, सिरसा और हिसार की सीटें बीजेपी के हाथ से पिछली बार खिसक गई थीं. हालांकि कुरुक्षेत्र से सांसद राजकुमार सैनी के बीजेपी से बागी होने के बाद वहां की सीट भी बीजेपी को अपने खेमे में करना चुनौती रहने वाला है, लेकिन हिसार, रोहतक, सिरसा की तीनों सीटों पर बीजेपी पिछले कुछ दिनों से फोकस करके चल रही है. पीएम नरेंद्र मोदी कुरुक्षेत्र में कल दस्तक दे रहे हैं. हालांकि पीएम नरेंद्र मोदी का यह दौरा 'स्वच्छ शक्ति 2019' के तहत है.

हिसार केएचएयू परिसर में सोमवार को बीजेपी की हिसार और सिरसा लोकसभा की कलस्टर मीटिंग हुई. मीटिंग में बीजेपी के प्रदेश सहप्रभारी विश्वास सारंग, प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला, वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु, संगठन मंत्री सुरेश भट्टा भी मौजूद थे. मीटिंग में ना सिर्फ पार्टी के बूथ लेवल के नेताओं को बूथ जीतो, चुनाव जीतो का मंत्र दिया गया. वहीं अमित शाह के दौरे को लेकर भी रणनीति बनाई गई. हरियाणा के बीजेपी सहप्रभारी विश्वास सारंग ने कहा कि 'इस बार 10 की 10 लोकसभा की सीटें उनके खाते में आएंगीं. पार्टी नेताओं को इसके लिए रणनीति बना ली है, बीजेपी हरियाणा के 10 लाख घरों में बीजेपी का झंडा और बीजेपी की नीतियों के स्टीकर को भी लगाने की तैयारी में है. इस अभियान का भी कल से हरियाणा में आगाज होने जा रहा है.'

वीरेंद्र सहवाग को प्रत्याशी बनाने की चर्चा नहीं
लोकसभा चुनाव में बीजेपी बड़े चेहरों पर भी गेम खेल सकती है. इस पर चल रही चर्चाओं पर भी बीजेपी नेताओं ने अपना रूख स्पष्ट किया है. दरअसल, कई दिनों से रोहतक सीट पर क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग के मैदान में उतरने की चल रही चर्चाओं पर आज बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने जवाब दिया है. बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने कहा कि पार्टी का 10 की 10 सीटों को जीतने का टॉरगेट जरूर है, लेकिन क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग से पार्टी के शीर्ष नेताओं का चुनाव को लेकर कोई संपर्क नहीं हुआ है. हालांकि उन्होंने यह जरूर कहा कि चुनावों में बड़े चेहरे जरूर चुनावी मैदान में उतरते हैं.

बीजेपी का नहीं होगा किसी से गठबंधन
आने वाले लोकसभा और विधानसभा चुनावों के मद्देनजर बीजेपी के साथ किसी पार्टी के गठबंधन की चर्चाओं पर बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने आज विराम लगा दिया. उन्होंने कहा कि जिस हिसाब से जनता ने बीजेपी को मजबूती दी है. उसके मद्देनजर अब बीजेपी का गठबंधन जनता के साथ हो गया है, ऐसे में किसी दल के साथ जाने की संभावना ही नहीं है. बराला ने कहा कि हरियाणा की जनता बीजेपी की नीतियों के साथ है, इसका परिणाम हाल ही में हुए जींद उपचुनाव, निगम मेयर चुनाव में साबित हो गया है. ऐसे में जनता के साथ बीजेपी का गठबंधन हो गया है, जिसके बाद अब बीजेपी का किसी दल के साथ गठबंधन होने की चर्चाओं पर सवाल ही नहीं रहता.

बागी सांसद राजकुमार अब कार्यकर्ता भी नहीं
कुरुक्षेत्र सांसद राजकुमार सैनी पर भी बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने कटाक्ष किया. बराला ने कहा कि वह अब पार्टी के कार्यकर्ता भी नहीं रहे. उन्होंने राजकुमार सैनी की पार्टी का बीएसपी के साथ गठबंधन होने के सवाल पर भी जवाब दिया. बराला ने कहा कि बसपा का इनेलो के साथ भी गठबंधन हुआ था. जैसे उनके साथ लंबा नहीं टिक पाया, ऐसा ही हाल राजकुमार सैनी की लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी और बीएसपी के बीच के टाइअप का रहने वाला है.