close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

क्या UPA में शामिल होंगी ममता बनर्जी! नायडू से मुलाकात के बाद उठे सवाल

चंद्रबाबू के पहुंचने पर उनका स्वागत ममता के भतीजे व तृणमूल कांग्रेस सांसद अभिषेक बनर्जी और कोलकाता के महापौर फिरहाद हकीम ने की.

क्या UPA में शामिल होंगी ममता बनर्जी! नायडू से मुलाकात के बाद उठे सवाल
नायडू की टीडीपी पूर्व में बीजेपी नीत एनडीए का हिस्सा रही है और उसने कुछ महीने पहले गठबंधन छोड़ दिया था. (फोटो सौजन्य: ANI)

कोलकाता: लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) के नतीजे 23 मई को आएंगे. लेकिन, इससे पहले ही विपक्षी राजनीतिक दलों ने महागठबंधन बनाने को लेकर कोशिशें तेज कर दी हैं. इस कड़ी में तेदेपा (टीडीपी) प्रमुख चंद्रबाबू नायडू ने सोमवार को भाजपा विरोधी दलों के गठबंधन की संभावनाओं पर चर्चा के लिए पश्चिम बंगाल में अपनी समकक्ष ममता बनर्जी से मुलाकात की. सूत्रों ने बताया कि सीएम ममता बनर्जी के आवास पर करीब 45 मिनट तक चली बैठक में बंगाल की मुख्यमंत्री को गैर-भाजपाई दलों के गठबंधन में शामिल होने का न्योता दिया गया.  

चंद्रबाबू के पहुंचने पर उनका स्वागत ममता के भतीजे व तृणमूल कांग्रेस सांसद अभिषेक बनर्जी और कोलकाता के महापौर फिरहाद हकीम ने की. सूत्रों के मुताबिक, दोनों नेताओं ने भाजपा विरोधी दलों की एकता के महत्व और साझा न्यूनतम एजेंडे पर चर्चा की. नायडू ने ममता को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी प्रमुख शरद पवार और माकपा महासचिव सीताराम येचुरी से रविवार को हुई अपनी मुलाकात के बारे में बताया.

 

 

सूत्रों का कहना है कि कल यानी मंगलवार (21 मई) को चुनाव आयोग से सारे विरोधी दल मिलेंगे. विपक्षी दल ईवीएम मशीन में किसी तरह से कोई भी गड़बड़ी न हो इसको चुनाव आयोग जाएंगे. कहा जा रहा है कि ममता बनर्जी और चंद्रबाबू नायडू की मुलाकात में इसे लेकर भी चर्चा हुई है. चुनाव आयोग से मिलने वाली टीम में तृणमूल कांग्रेस की ओर से टीएमसी नेता डेरेक ओ ब्रायन भी शामिल हो सकते हैं. 

इससे पहले नायडू ने शनिवार को लखनऊ में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात की थी. अखिलेश से मुलाकात के बाद नायडू सीधे मायावती के आवास पहुंचे थे. बसपा सुप्रीमो ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया था. वहीं, नायडू ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात कर सभी विपक्षी दलों को एकजुट करने और एक संयुक्त विपक्षी गठबंधन बनाने की संभावनाओं पर चर्चा की थी. आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने भाकपा नेता सुधाकर रेड्डी और डी राजा के साथ एलजेडी नेता शरद यादव से भी मुलाकात की.

नायडू की टीडीपी पूर्व में बीजेपी नीत एनडीए का हिस्सा रही है और उसने कुछ महीने पहले गठबंधन छोड़ दिया था. नायडू ने शुक्रवार को कहा था कि न केवल तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) बल्कि भगवा पार्टी का विरोध करने वाले किसी भी दल का महागठबंधन में स्वागत है. विपक्षी दल अगली सरकार बनाने के लिए संयुक्त बीजेपी विरोधी मोर्चा बनाने पर जोर दे रहे हैं. लोकसभा चुनाव के नतीजे 23 मई को घोषित होने के बाद विभिन्न विपक्ष दलों के बीच चर्चा तेज हो सकती है.