संभल में गरजे योगी, 'जिसने बाबा साहब का अपमान किया उसके लिए वोट मांग रही हैं बहनजी'

सीएम योगी ने कहा, 'हमने कभी नहीं कहा कि किसी जाति/मजहब के आधार पर वोट दो. हमने कहा कि मोदी जी के नेतृतव में जो समाज कल्याण का काम हुआ है और जिस तरह से दुनिया में भारत का नाम ऊंचा किया है उसके लिए मोदी जी को समर्थन मिलना चाहिए.' 

संभल में गरजे योगी, 'जिसने बाबा साहब का अपमान किया उसके लिए वोट मांग रही हैं बहनजी'

संभलः लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha elections 2019) के प्रचार में चुनाव आयोग द्वारा 72 घंटे का बैन खत्म होने के बाद यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को संभल में बीजेपी की चुनाव रैली को संबोधित किया. योगी आदित्यनाथ ने कहा, 'संभल को गुंडागर्दी के लिए बदनाम कर दिया है, इसे इससे निकलने के लिए ही हम संभल आये है.' सीएम योगी ने कहा कि मोदी जी की कल्याणकारी योजनाओ का आधार समाज के अंतिम पायदान पर खड़ा गरीब है और इनके हितो के साथ किसी को खिलवाड़ नहीं करने देना हमारा संकल्प है. उन्होंने कहा कि हर गरीब को राशन कार्ड ,विद्युत् कनेक्शन शौचालय और एलपीजी कनेक्शन दिलवाने का संकल्प है. 

सीएम योगी ने कहा, 'हमने कभी नहीं कहा कि किसी जाति/मजहब के आधार पर वोट दो. हमने कहा कि मोदी जी के नेतृतव में जो समाज कल्याण का काम हुआ है और जिस तरह से दुनिया में भारत का नाम ऊंचा किया है उसके लिए मोदी जी को समर्थन मिलना चाहिए.' 

सीएम योगी ने आजम खान पर हमला करते हुए कहा, 'रामपुर में एक जीव रहता है जो बाबासाहेब का अपमान करता था और बहन बेटियों की इज्जत के साथ खिलवाड़ करता है, आज उसके लिए बहन मायावती जी वोट मांग रही है.' 

सीएम योगी ने बताया, 'मेरे पास फ़ोन आया था चौधरी वीरेंद्र सिंह जी (सपा के पूर्व एमएलसी) का, उन्होंने कहा मैं आपसे मिलना चाहता हूं और मैंने कहा की आ जाइये. उन्होंने कहा कि में टिकट के लिए नहीं आया हूं, मैं बीजेपी के विकास के कार्य से जुड़ना चाहता हूं. क्योंकि जब सपा का झंडा लेकर किसी के घर जाता हूं तो लोग कहते है कि क्या गुंडों का झंडा लेकर आये हो.'

यह भी पढ़ेंः उत्तर प्रदेशः संभल के बुजुर्ग ने शहीदों के सम्मान में घर को ही बना दिया शहीद संग्रहालय

योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा, 'आज बिजली मिल रही है और जो गुंडे एसिड अटैक करते थे वो जान गए है की उनकी जगह या तो जेल है या राम नाम सत्य ,बहन बेटी की इज्जत से खिलवाड़ नहीं करने देंगे'

सीएम योगी ने कहा कि बहन मायावती ने जन्माष्टमी के कार्यक्रम पर रोक लगा दी और अखिलेश ने कांवड़ यात्रा पर, हमने सब रोक हटाया, आज प्रदेश में दंगा मुक्त सत्ता है.' 

सीएम योगी ने कहा, 'संभल में केला देवी का मंदिर इतना प्राचीन मंदिर है और सपा की सरकार थी क्या केला देवी मंदिर का सौन्दर्यकरण होना चाहिए था कि नहीं? जहां सरकार भेदभाव करती थी कि कब्रिस्तान में बिजली दी जाएगी और शमसान में नहीं मैंने इस भेदभाव को ख़त्म किया.'

योगी ने कहा कि अपने को बाबर की औलाद कहने वाला व्यक्ति भी गठबंधन का प्रत्याशी बन कर आता है, मैं पूछना चाहता हूं कि क्या आप देशद्रोहियों के हाथ में देश की बागडोर सौपने को तैयार है? क्या आप बजरंगबली के विरोधियों  के हाथ में देश की विकास की बाग़डोर सौपने को तैयार है क्या ?