CM की बेटी को बीजेपी ने हराया तो सदमे में समर्थक ने छोड़ा सोना और खाना, हुई मौत

निजामाबाद लोकसभा संसदीय सीट से के.कविता की हार की खबर सुनने के बाद से किशोर ने सोना और खाना बंद कर दिया था.

CM की बेटी को बीजेपी ने हराया तो सदमे में समर्थक ने छोड़ा सोना और खाना, हुई मौत
.(फाइल फोटो)

हैदराबाद: तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव की बेटी के.कविता के लोकसभा चुनाव में हार जाने से निराश उनके एक समर्थक की सदमे से मौत हो गई. तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के कार्यकर्ता किशोर की निजामाबाद जिले के मनचिकप्पा गांव में शनिवार को दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई. पार्टी नेताओं के अनुसार, निजामाबाद लोकसभा संसदीय सीट से कविता की हार की खबर सुनने के बाद से किशोर ने सोना और खाना बंद कर दिया था. कविता ने सोमवार को किशोर के घर का दौरा किया और उसके परिजनों को पार्टी की तरफ से पूरा सहयोग देने का आश्वासन दिया.

टीआरएस नेता ने पार्टी कार्यकर्ताओं और उनके समर्थकों से दिल छोटा न करने की अपील करते हुए कहा कि हार और जीत लोकतांत्रिक प्रक्रिया का हिस्सा हैं. पूर्व सांसद ने कहा कि कार्यकर्ता पार्टी की ताकत हैं और उन्हें स्थिति का हिम्मत के साथ सामना करना चाहिए.

वर्ष 2014 में निजामाबाद से लोकसभा के लिए निर्वाचित कविता ने लोगों को आश्वस्त किया कि वह हमेशा उनके लिए काम करती रहेंगी. तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव की बेटी के कविता को निजामाबाद लोकसभा क्षेत्र में बीजेपी ने हरा दिया. टीआरएस के राज्यसभा सदस्य डी श्रीनिवास के बेटे और चुनावी राज्य में कदम रखने वाले डी अरविंद ने करीब 70,000 वोटों से करीब कविता को हराया. बता दें निजामाबाद तब सुर्खियों में आया था, जब 180 किसान चुनावी मैदान में उतरे थे.