close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

यूपी में BJP का सहयोगी दलों से गठबंधन बना रहेगा, 73 प्लस सीटें जीतेंगे : मौर्य

उत्तर प्रदेश में भाजपा से सहयोगी दलों की नाराजगी की खबर के बीच प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने दी प्रतिक्रिया.

यूपी में BJP का सहयोगी दलों से गठबंधन बना रहेगा, 73 प्लस सीटें जीतेंगे : मौर्य
केशव प्रसाद मौर्य ने दी प्रतिक्रिया. फोटो ANI

नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश में भाजपा से सहयोगी दलों की नाराजगी की खबर के बीच प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने जोर दिया है कि अपना दल और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के साथ भाजपा का गठबंधन पहले की तरह जारी रहेगा और 2019 के लोकसभा चुनाव में यह गठबंधन ‘73 प्लस’ सीटों पर जीत दर्ज करेगा.

 

केशव प्रसाद मौर्य ने समाचार एजेंसी भाषा से खास बातचीत में कहा, 'भाजपा का गठबंधन 2014 से ही अपना दल के साथ है और वह बना रहेगा. इसी प्रकार से सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के साथ भी गठबंधन बना रहेगा.' 

उन्होंने जोर दिया कि इन सहयोगी दलों के साथ 2014 के लोकसभा चुनाव और 2017 के विधानसभा उपचुनाव की तरह ही गठबंधन बना रहेगा. गौरतलब है कि 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा एवं सहयोगी दलों ने उत्तरप्रदेश की 80 लोकसभा सीटों में 73 पर जीत दर्ज की थी जबकि 2017 के विधानसभा चुनाव में भाजपा गठबंधन को 325 सीटों पर जीत हासिल हुई थी. 

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री से राज्य में दोनों सहयोगी दलों की कुछ समय से चली आ रही नाराजगी के बारे में पूछा गया था. अपना दल जहां लगातार प्रदेश की योगी सरकार और भाजपा की राज्य इकाई पर उपेक्षा का आरोप लगा रहा है, वहीं सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के नेता ओम प्रकाश राजभर ओबीसी आरक्षण में बंटवारे के लिये गठित सामाजिक न्याय समिति की रिपोर्ट में लागू की गई सिफारिशों को लागू करने की मांग पर जोर दे रहे हैं.

केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल की पार्टी अपना दल और राजभर की पार्टी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी ने गठबंधन को लेकर पुनर्विचार करने की बात भी कही है. समझा जाता है कि हाल ही में राजभर ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से इस बारे में चर्चा की. योगी आदित्यनाथ की भी पार्टी अध्यक्ष से इस मुद्दे पर चर्चा हुई है.

इस विषय में पूछे जाने पर केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि दोनों हमारे सहयोगी दल हैं और ऐसे में उनके नेता हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष से मुलाकात कर सकते हैं. राज्य में गठबंधन को मजबूत बनाने और चुनाव के संदर्भ में पार्टी अध्यक्ष से चर्चा स्वभाविक प्रक्रिया है.

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री ने कहा, 'हम अपने सहयोगी दलों के साथ 2019 के लोकसभा चुनाव में 73 प्लस सीटों पर जीत दर्ज करेंगे. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश में फिर भाजपा नीत राजग की सरकार बनेगी.' उन्होंने जोर दिया कि केंद्र में भाजपा के 55 महीने बनाम कांग्रेस के 55 साल और उत्तरप्रदेश में भाजपा के 20 महीने बनाम सपा और बसपा के 15 साल का कामकाज जनता के सामने है और यही विकास कार्य 2019 में भाजपा को बड़ी जीत दिलाएगा.