close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दिग्विजय ने राम मंदिर की जमीन दिलाने का खेला दांव, तो BJP से मिला ये जवाब

दिग्विजय के इस कदम से बीजेपी खेमा कुछ असहज हो गया और प्रदेश के पूर्व मंत्री विश्वास सांसद ने कहा कि ऐन चुनाव सामने हैं, इसलिये दिग्विजय सिंह को भगवान राम याद आ रहे हैं. 

दिग्विजय ने राम मंदिर की जमीन दिलाने का खेला दांव, तो BJP से मिला ये जवाब
कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भोपाल लोकसभा सीट पर राम मंदिर के लिए जमीन दिलाने का वादा किया है.

भोपाल: भोपाल लोकसभा सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार और पार्टी के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने शनिवार को शहर के एक राम मंदिर में पूजा अर्चना की और ट्रस्ट को मंदिर की जमीन वापस दिलाने का आश्वासन भी दिया. दिग्विजय के इस कदम से बीजेपी खेमा कुछ असहज हो गया और प्रदेश के पूर्व मंत्री विश्वास सांसद ने कहा कि ऐन चुनाव सामने हैं, इसलिये दिग्विजय सिंह को भगवान राम याद आ रहे हैं. 

बीजेपी का आरोप कांग्रेस ने हथियाई है जमीन
उन्होने कहा, ‘चुनाव सामने हैं इसलिये उन्हें (दिग्विजय को) भगवान राम और हनुमान जी याद आ रहे हैं. जबकि वास्तव में गुरु बक्क्ष की तलैया क्षेत्र में स्थित राम मंदिर की जमीन जिला कांग्रेस ने हथिया ली है.’

वहीं, भोपाल नगर निगम के पार्षद योगेन्द्र चौहान गुड्डू ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री रहते हुए (1993 से 2003 तक) दिग्विजय सिंह ने यह जमीन जिला कांग्रेस कमेटी को आवंटित की थी. उन्होंने दावा किया, ‘जमीन को लेकर मंदिर ट्रस्ट और जिला कांग्रेस कमेटी के बीच विवाद था और अदालत ने फैसला दिया कि जमीन जिला कांग्रेस कमेटी की है.'

'दिग्वियज सिंह सच्चे धार्मिक व्यक्ति'
रामनवमी के अवसर पर राम मंदिर में आरती के दौरान गुड्डू दिग्विजय के पीछे ही खड़े थे. उन्होंने कहा कि बीजेपी सही में हिन्दू समर्थक है तो मंदिर ट्रस्टियों को जमीन वापस देने की पूर्व मुख्यमंत्री की बात का बीजेपी को समर्थन करना चाहिये. उन्होंने कहा कि हमारे नेता दिग्वियज सिंह सच्चे धार्मिक व्यक्ति हैं और उन्होंने पिछले साल ही 3,300 किलोमीटर लम्बी नर्मदा परिक्रमा यात्रा पैदल पूरी की है.