close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जंगीपुर लोकसभा सीट पर कांग्रेस ने फिर खेला है प्रणब मुखर्जी के बेटे अभिजीत पर दांव

जंगीपुर लोकसभा सीट पर कांग्रेस ने 2014 के चुनाव में अभिजीत मुखर्जी को फिर मैदान में उतारा जिसमें उन्होंने जीत हासिल की.  अभिजीत मुखर्जी को 378,201 यानी 33.80 फीसदी वोटों के साथ जीत दर्ज की.

जंगीपुर लोकसभा सीट पर कांग्रेस ने फिर खेला है प्रणब मुखर्जी के बेटे अभिजीत पर दांव
फाइल फोटो.

नई दिल्ली: आजादी के बाद देश में 1967 में हुए चौथे लोकसभा चुनावों के दौरान अस्तित्व में आई पश्चिम बंगाल की जंगीपुर लोकसभा सीट पर कई राजनीतिक दग्गजों के बच्चे ताल ठोक रहे हैं. इस सीट से कांग्रेस ने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के बेटे अभिजीत मुखर्जी पर दोबारा विश्वास दिखाया है. अभिजीत मुखर्जी वर्तमान में इसी सीट से सांसद है. 

कांग्रेस और सीपीएम का रहा है मुकाबला
प्रदेश की अन्य सीटों पर बेशक वक्त के साथ सीपीएम की छवि धुंधली पड़ गई हो, लेकिन यहां हमेशा से ही कांग्रेस और सीपीएम के बीच कांटे की टक्कर का मुकाबला देखने को मिला है. इस सीट से निर्दलीय समेत कुल 11 पार्टियां इस बार मैंदान में हैं.

जंगीपुर लोकसभा सीट पर कांग्रेस ने 2014 के चुनाव में अभिजीत मुखर्जी को फिर मैदान में उतारा जिसमें उन्होंने जीत हासिल की. अभिजीत मुखर्जी को 378,201 यानी 33.80 फीसदी वोटों के साथ जीत दर्ज की, वहीं माकपा के मुजफ्फर हुसैन को 370,040 यानी 33.07 फीसदी मत मिले. पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस का दबादबा रहने के बाद भी पार्टी इस सीट पर नाकाम ही रही है.

हालांकि इस बार भी कुछ खास नहीं बदला है. कांग्रेस ने पुराने उम्मीदवार को उतारकर मुकाबले को रोचक नहीं किया है. वहीं, टीएमसी भी इस बार जोरों से कांग्रेस को टक्कर देने की कोशिश कर रही है, लेकिन ऐसा संभव नहीं हो पा रहा है.