पूर्व मुख्यमंत्री की जन्मस्थली विरुधुनगर में इस बार कांटे की टक्कर

तमिलनाडु में कौशि‍क नदी के किनारे बसे विरुधुनगर जिले में ही राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री भारत रत्न के. कामराज का जन्म हुआ था. साल 2008 में हुए परिसीमन के बाद यह संसदीय सीट अस्तित्व में आई. पहले इसे शिवाकासी नाम से जाना जाता था.

पूर्व मुख्यमंत्री की जन्मस्थली विरुधुनगर में इस बार कांटे की टक्कर

तमिलनाडु में कौशि‍क नदी के किनारे बसे विरुधुनगर जिले में ही राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री भारत रत्न के. कामराज का जन्म हुआ था. साल 2008 में हुए परिसीमन के बाद यह संसदीय सीट अस्तित्व में आई. पहले इसे शिवाकासी नाम से जाना जाता था. 2008 के बाद यहां पर दो बार 2009 और 2014 में लोकसभा चुनाव हुए हैं. 2014 में हुए लोकसभा चुनाव के आधार पर विरुधुनगर सीट पर एआईएडीएम के टी. राधाकृष्णन सांसद हैं. उन्हें सबसे ज्यादा 406694 मत मिले थे. दूसरे नंबर पर रहने वाले एमडीएमके के वायको को 2,61,143 मत मिले थे.

विरुधुनगर लोस सीट के अंतर्गत छह विधानसभा सीटें
इससे पहले यहां पर 2009 में डीएमके की मनिका टैगोर ने जीत दर्ज की थी. 2014 के चुनाव में विरुधुनगर सीट पर तीसरे नंबर पर डीएमके उम्मीदवार और चौथे पर कांग्रेस प्रत्याशी रहा था. विरुधुनगर संसदीय सीट के अंतर्गत छह विधानसभा सीटें आती हैं. इनमें विरुधुनगर, सत्तूर, शि‍वाकासी, अरुप्पुकोट्टई, तिरुमंगलम और तिरुप्परंगकुंदरम हैं. साल 2014 के आंकड़ों के अनुसार इस सीट पर कुल 13,50,495 मतदाता हैं.

इनमें से 6,69,589 पुरुष मतदाता हैं और 6,80,906 महिला मतदाता हैं. पूर्व मुख्यमंत्री भारत रत्न के. कामराज की जन्मस्थली होने के कारण वहां का कामराज हाउस स्मारक में बदल गया है. इस स्मारक को देखने के लिए लोग दूर-दूर से आते हैं. इस कारण इसे एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल के रूप में पहचान मिली है. शहर के बीचों-बीच प्रसिद्ध मरियम्मन मंदिर है.