close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अमित शाह ने ममता बनर्जी की सरकार को कहा 'माफिया राज'

शाह ने लोगों से अनुरोध किया कि वे सुनिश्चित करें कि बीजेपी को राज्य में 42 में से 23 से अधिक सीटें मिलें. शाह ने यहां एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि उनकी पार्टी बंगाल में सिंडीकेट राज को 90 दिन के अंदर खत्म करना सुनिश्चित करेगी.

अमित शाह ने ममता बनर्जी की सरकार को कहा 'माफिया राज'
बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी पर हमला किया है.

उलुबेरिया: बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने सोमवार को कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल में माफिया राज चला रही हैं. उन्होंने दावा किया कि गौ तस्करी में राज्य शीर्ष पर है और यह घुसपैठियों के लिए पनाहगाह बन गया है. उन्होंने लोगों से अनुरोध किया कि वे सुनिश्चित करें कि बीजेपी को राज्य में 42 में से 23 से अधिक सीटें मिलें. शाह ने यहां एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि उनकी पार्टी बंगाल में सिंडीकेट राज को 90 दिन के अंदर खत्म करना सुनिश्चित करेगी.

शाह ने समझाया सिंडीकेट का मतलब
पश्चिम बंगाल में ‘सिंडीकेट’ का मतलब कथित राजनीतिक संरक्षण प्राप्त लोगों की ओर से चलाए जा रहे कारोबारों से है. ये लोग प्रमोटरों और ठेकेदारों को अक्सर ऊंचे दामों पर खराब गुणवत्ता का सामान खरीदने के लिए विवश करते हैं.

शाह ने दावा किया, ‘ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली टीएमसी राज्य में माफिया राज चला रही है. राज्य गौ तस्करी में शीर्ष पर है और राज्य घुसपैठियों के लिए पनाहगाह में तब्दील हो गया है.'

'BJP सत्ता में आई तो NRC लागू करुंगा'
उन्होंने ममता बनर्जी पर बंगाल को दिवालिया राज्य बनाने का आरोप लगाया और कहा कि यहां केवल उनके (बनर्जी) रिश्तेदार और टीएमसी के मंत्री फले-फूले हैं. शाह ने आरोप लगाया कि विवादित एनआरसी का विरोध कर रहीं बनर्जी लोगों को भ्रमित कर रही हैं. उन्होंने चुनाव जीतने के बाद हर राज्य में एनआरसी लागू करने का वादा किया. 

बीजेपी नेता ने कहा, ‘हमारा एक-एक घुसपैठिए को बाहर निकालने के लिए देशभर में एनआरसी लागू करने का वादा है. पहले हम नागरिकता (संशोधन) विधेयक लाएंगे ताकि सभी शरणार्थियों को नागरिकता मिले और फिर हम घुसपैठियों को बाहर करने के लिए एनआरसी लाएंगे.’ बनर्जी लगातार दावा करती रही हैं कि असम से अवैध शरणार्थियों को बाहर करने के लिए लाया गया एनआरसी असल में भारतीय नागरिकों को शरणार्थी बना देगा.