close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

तिरुवनंतपुरम सीट पर शशि थरूर के लिए करो या मरो की है जंग

लोकसभा चुनाव 2019 के तहत केरल की तिरुवनंतपुरम लोकसभा सीट 73.40 प्रतिशत वोट डाले गए. इस सीट से कांग्रेस ने अपने मौजूदा सांसदा शशि थरूर को फिर मैदान में उतारा है. उन्‍हें यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (UDF) का समर्थन हासिल है. पिछली बार थरूर बड़ी मुश्किल से चुनाव जीत पाए थे. 

तिरुवनंतपुरम सीट पर शशि थरूर के लिए करो या मरो की है जंग
फाइल फोटो

नई दिल्‍ली : लोकसभा चुनाव 2019 के तहत केरल की तिरुवनंतपुरम लोकसभा सीट 73.40 प्रतिशत वोट डाले गए. इस सीट से कांग्रेस ने अपने मौजूदा सांसदा शशि थरूर को फिर मैदान में उतारा है. उन्‍हें यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (UDF) का समर्थन हासिल है. पिछली बार थरूर बड़ी मुश्किल से चुनाव जीत पाए थे. 

अगर बीजेपी की बात करें तो उसकी तरफ से इस बार मिजोरम के पूर्व गवर्नर कुम्मनम राजशेखर को चुनावी रण में उतारा गया है. इस वजह से उनके और शशि थरूर के बीच मुकाबला कड़ा देखा जा रहा है. 

बीजेपी से चुनाव लड़ने के लिए ही के. राजशेखर ने गवर्नर पद से इस्तीफा दिया था. हालां‍कि देखा जाए तो तिरुअनंतपुरम सीट पर शशि थरूर काफी समय से सक्रिय रहे हैं. इसी वजह से उन्हें यहां से मात देना इतना आसान भी नहीं है.

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने इस इस सीट से सी दिवाकरन, प्रवासी निवासी पार्टी के पंडालम केरलवर्माराजा, सोशलिस्ट यूनिटी सेंटर ऑफ इंडिया (कम्युनिस्ट) के एस. मिनी के अलावा कई निर्दलीय उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं.