ममता बनर्जी की सरकार ने नहीं होने दी अमित शाह की झारग्राम रैली: कैलाश वियजवर्गीय

विजयवर्गीय ने आरोप लगाया कि ममता सरकार ने अमित शाह के हेलीकॉप्टर की लैंडिंग की इजाजत नहीं दी, जिसके चलते अमित शाह झारग्राम की रैली में शामिल नहीं हो सके. हालांकि ये भी कहा जा रहा है कि खराब सेहत के चलते अमित शाह को दिल्ली लौटना पड़ा जिसके चलते रैली को टाल दी गई है. 

ममता बनर्जी की सरकार ने नहीं होने दी अमित शाह की झारग्राम रैली: कैलाश वियजवर्गीय
झारग्राम रैली रद्द होने को लेकर कैलाश विजयवर्गीय और दिलीप घोष के बयान में विविधता है.
Play

मालदा/कोलकाता: बीजेपी के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने आरोप लगाया है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की वजह से बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की झारग्राम में होने वाली रैली टल गई है. न्यूज एजेंसी ANI से बातचीत में विजयवर्गीय ने आरोप लगाया कि ममता सरकार ने अमित शाह के हेलीकॉप्टर की लैंडिंग की इजाजत नहीं दी, जिसके चलते अमित शाह झारग्राम की रैली में शामिल नहीं हो सके. हालांकि ये भी कहा जा रहा है कि खराब सेहत के चलते अमित शाह को दिल्ली लौटना पड़ा जिसके चलते रैली को टाल दी गई है. 

बीजेपी की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने सोमवार देर शाम कहा, ‘अमित शाह बहुत बीमार हैं. उन्हें तेज बुखार है, लेकिन फिर भी उन्होंने यहां आज की रैली में हिस्सा लिया. स्वाइन फ्लू की चपेट में आने के बाद अस्पताल में उनका इलाज हुआ था और कुछ दिन पहले ही उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिली थी.’

घोष ने कहा कि अमित शाह मंगलवार शाम को ही नई दिल्ली लौटेंगे, क्योंकि उनके डॉक्टरों ने उन्हें सलाह दी है कि वे खराब सेहत के कारण किसी रैली में हिस्सा नहीं लें. उन्होंने कहा, ‘यदि कल उनकी तबीयत ठीक रहती है तो वह बुधवार को झारग्राम में रैली को संबोधित करेंगे.’ प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि शाह ने उन्हें यह सुनिश्चित करने को कहा है कि अन्य निर्धारित रैलियां समय पर हों.

दिलीप घोष और कैलाश विजयवर्गीय के बयान में विविधता होने से इस मामले ने तूल पकड़ लिया है. घोष के मुताबिक अमित शाह की तबियत खराब होने के चलते झारग्राम की रैली रद्द की गई है, वहीं विजयवर्गीय का कहना है कि हेलीकॉप्टर लैंडिंग की इजाजत नहीं मिलने के चलते रैली रद्द की गई है. हालांकि देखना होगा कि बुधवार को पार्टी रैली रद्द होने के पीछे क्या वजह बताती है.

इससे पहले, शाह ने मालदा में रैली को संबोधित कर चुनाव अभियान की शुरुआत की. उन्होंने कहा कि नागरिकता (संशोधन) विधेयक पारित होने के बाद सभी बंगाली शरणार्थियों को नागरिकता दी जाएगी. 

इनपुट: पूजा मेहता